Breaking News

योगी सरकार की नीतियों को धता बताती बहराइच पुलिस की कारगुजारी

 हत्यारे  खुले आम घूम रहे हैं पुलिस नहीं कर रही है गिरफ्तार 

लखनऊ /बहराइच (जनजागरण टीम)!  एक तरफ सूबे में  योगी सरकार प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था व अपराधियों और भ्रष्ट कारिदों को पटरी पर लाने के लिए ताबड़तोड़ विभागीय समीक्षा कर सूबे के आलाअफसरों से व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त करने के लिए नित नए नए आदेश  – निर्देश दे रही है वहीं अभी भी बहुतेरे अधिकारी व कर्मचारी अपने पुराने रवैये को बदलने को तैयार नहीं है बहराइच पुलिस भी  इसी कतार  में खडी नज़र आ रही है यहाँ एक युवती की हत्या हुए करीब दो माह गुजरने को हैं किन्तु  पीड़ित परिवार न्याय के लिए दर दर भटकने को आज भी मजबूर है युवती के पिता का कहना है की हत्यारों की जानकारी होने व पुख्ता सबूत होने के बावजूद   बहराइच पुलिस हत्यारों को नहीं पकड़ रही है ! अब सवाल यह उठता है की  यदि  बहराइच पुलिस की   विवेचना का सच  यही है जैसा की पीड़ित पिता बता रहा है तो भला कैसे उम्मीद की जाये की सूबे में कानून व्यस्था में सुधार हो रहा हैं !

मामला बहराइच जिले के रूपडीहा के हरिहरपुर पुरैनी गांव का  है बताया जाता है की युवती अपने परिजनों के साथ 1 मार्च को एक वैवाहिक समारोह में शामिल होने के लिए घर से निकली थी  जिसका शव गांव स्थित एक कुएं में २ मार्च की सुबह को मिला  उसके सिर पर गहरे जख्म भी थे  जिससे लग रहा था  कि उसकी हत्या कर शव कुएं में फेंका गया था ।

बताते चलें की रुपईडीहा थाना क्षेत्र के पुरैनी गांव निवासी शिक्षक भुवन भास्कर अपने परिवार के साथ ससुराल जलालपुर में रहते हैं। पट्टीदार  रामतीरथ ने घर में बेटी का विवाह होने से पूरे परिवार को एक मार्च का न्यौता देते हुए आमंत्रण दिया था इसी  वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए 1 मार्च की शाम परिवार के सदस्यों के साथ सीमा भी वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने गई लेकिन जरूरी रस्म निपटने के बाद सीमा कहीं दिख नहीं रही थी तो सोचा कि अपनी सहेलियों के साथ होगी।
भुवन भास्कर और उनकी पत्नी घर लौट आए। गुरुवार सुबह तक सीमा के घर न लौटने पर परिवारीजन रामतीरथ के घर पहुंचे तो वहां भी सीमा का पता नहीं चल सका। खोजबीन शुरू हुई, रात बीत गई, लेकिन सीमा का पता नहीं लग सका। शुक्रवार को सुबह घर से कुछ दूरी पर स्थित कुएं में ग्रामीणों ने शव पड़ा होने की सूचना दी। पुलिस ने शव को कुएं से निकलवाया तो लाश सीमा की ही  निकली। सीमा के सिर पर गहरे जख्म थे। जिससे लग रहा था कि हत्या करने के बाद शव कुएं में फेंका गया है। सूचना पाकर प्रभारी पुलिस क्षेत्राधिकारी सुरेंद्र यादव ने भी घटनास्थल का मुआयना कर ग्रामीणों से बातचीत की  थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत के कारणों का सही पता चल सकेगा।
ग्रामीणों में एक ने  गुरुवार रात को कुएं से कुछ दूरी पर बचाव की आवाज आ आने की बात भी बताई  लेकिन सभी ने उसकी बात को नजरंदाज कर दिया।   बीते एक  दो मार्च की रात घटना घटित हुई पीड़ित पिता ने तहरीर थाने पर दी  पुलिस ने रिपोर्ट नहीं दर्ज की। एसपी के आदेश पर हत्या कर शव छिपाने का मामला दर्ज किया गया। थाना क्षेत्र के हरिहरपुर पुरैनी गांव निवासी शिक्षक भुवन भास्कर वर्मा मृतका के पिता ने बताया कि जब पुलिस ने रिपोर्ट नहीं दर्ज की तो एसपी को तहरीर दी गई। एसपी के आदेश पर 19 मार्च को पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की। बताया तो यह जा रहा है की  सबूत और गवाह लिए पीड़ित परिवार घूम रहा है, लेकिन पुलिस अभियुक्तों की गिरफ्तारी अभी भी नहीं कर रही है। पीड़ित शिक्षक ने बताया कि गांव के ही शेर अली, जलालपुर के अरविंद व शेरू ने उनकी बेटी की हत्या की है। हत्या का पुख्ता सबूत और गवाह लिए वह गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधिकारियों की चौखट नाप रहे हैं। पुलिस उनकी सुनने को तैयार नहीं है। अभियुक्त खुलेआम पुलिस की सरपरस्ती में घूम रहे हैं। उन्हें और उनके परिवार को जानमाल की धमकी भी दी जा रही है और रुपईडीहा थानाध्यक्ष  का कहना है मामले की  विवेचना जारी  है।

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

DA Image

बाराबंकी:पीएम के मन की बात में छाईं बाराबंकी की सुमन

बाराबंकी। हिन्दुस्तान संवाद Source link Share this on WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *