Breaking News

ये है कानपुर का बकरा ‘बादल’ काजू ,बदाम, फल है खुराक 4 नौकर करते हैं खिदमत

कानपुर ! कानपुर में बादल नाम का बकरा इन दिनों पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है इस बकरे की सेवा में 4 नौकर लगाये गए है वहीं इस बकरें को पालने वाले शख्स ने बादल की कोई कीमत नही लगायी है ! कानपुर के कपड़ा व्यापारी आकिब खान को सफेद बकरे पालने का शौक है. वे कुछ दिनों पहले कारोबार के सिलसिले में गुजरात के सूरत शहर गए तो उनकी नजर एक बकरे पर पड़ी. बिना कुछ सोचे-समझे उन्होने सवा दो लाख में यह लाहौरी बकरा खरीद लिया.

बताते चलें  कि हिंदू परिवार में पैदा होने की वजह से इसका नाम बादल पड़ा और एक मुस्लिम परिवार ने उसे बड़ी नाजों से अपने बेटे की तरह पाला. बादल एसी रूम में रहता है काजू, किशमिश, बादाम, फल खाता है और कोल्ड ड्रिंक पीता है.

आकिब खान ने बताया कि बादल बहुत ही आराम तलब है. सुबह सोकर उठने के बाद वह बालकनी पर जाकर सुबह की धूप लेता है. उसके बाद बादल अपने एसी वाले कमरे में आराम करता है. बादल की देखभाल के लिए घर पर चार नौकर रखे गए हैं.खाने-पीने का  शौकीन बादल घास पत्तों की तरफ देखता  भी नहीं हैं. लंच और डिनर में हरे ताज़े पत्तों को तो लेता हैं  लेकिन बादल सुबह के नाश्ते में काजू , किशमिश , मखाने और दूध न मिले तो फिर नाराज होकर पूरे दिन खाना नहीं खाता है.बादल भीड़-भाड़ और शोर शराबे से नाराज हो जाता है. बादल रोजाना दो लीटर कोल्ड ड्रिंक भी पीता है साथ ही आधा दर्जन फल भी खाता है. आकिब खान ने बताया कि वह बादल पर हर महीने 35 हजार रूपए खर्च करते हैं !

 

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

विकास के साथ हर छोटे-बड़े अपराध में शामिल भाई की भी ना ही हिस्ट्रीसीट खुली न ही अपराधियों की सूची में नाम डाला गया,जांच में हुआ खुलासा

दहशतगर्द विकास दुबे का सगा भाई 16 साल से जमानत पर बाहर है। वह विकास …