Breaking News

पत्रकार की हत्या से आक्रोशित भीड़ ने थाना घेरा

खनन माफियाओं के खिलाफ लगातार लिखने वाले मप्र के पत्रकार संदीप कोठारी की हत्या कर उसकी लाश को जला देने की घटना के बाद सोमवार को कटंगी बंद रखा गया। मृतक के परिजनों एवं स्थानीय लोगों ने थाने के सामने लाश रखकर प्रदर्शन किया। वे इस मामले में सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रहे हैं। हालांकि भोपाल में गृहमंत्री बाबूलाल गौर ने मीडिया से इस मामले में सीबीआई से जांच कराने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि आरोपियों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।
 पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन एक अभी भी फरार है। इस मामले में एडिशनल एसपी नीरज सोनी ने कहा कि मामले की जांच चल रही हैं, आरोपी जल्द ही पकड़ लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जाएगा।

पिछले   कई साल से मेरे बेटे के पीछे पड़े थे लोग
थाने के सामने संदीप की लाश रखकर प्रदर्शन कर रहे उनके परिजनों का कहना है कि पुलिस मामले में कोताही दिखा रही है। संदीप की मां ने बताया कि कुछ बदमाश पिछले दस सालों से उनके बेटे के पीछ पड़े थे। मैं इस पूरे मामले में सीबीआई जांच चाहती हूँ । उन्होंने कहा कि, खनन माफिया उनके दो अन्य बेटों को भी जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।
 नेता प्रतिपक्ष ने की सीबीआई जांच की मांग
नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे ने इस मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। मामले की तह तक जाने के लिए उन्होंने कांग्रेस के 3 विधायकों की जांच समिति बनाई है। समिति में मधु भगत संयोजक रहेंगे। हिना कांवरे और संजय उइके सदस्य हैं।
यह है मामला…
शुक्रवार शाम संदीप बालाघाट के कटंगी क्षेत्र में अपने दोस्त ललित के साथ घर लौट रहे थे। इसी दौरान कार में आए तीन लोगों ने उनकी बाइक को टक्कर मारी। संदीप गिर गए, तो किडनैपर्स ने उन्हें उठाकर कार में डाल दिया। ललित को आरोपियों ने मारपीट कर भगा दिया। किडनैपर्स संदीप को नागपुर की ओर ले गए। रास्ते में उनकी गला घोंट कर हत्या कर दी गई। बाद में आरोपियों ने संदीप की लाश को वर्धा में डीजल डालकर जला दिया। ललित की शिकायत पर पुलिस ने इस मामले के दो आरोपियों चिटफंड कंपनी प्रमुख बृजेश डहरवाल और प्रापर्टी डीलर विशाल चांडी को गिरफ्तार कर लिया, जबकि तीसरा फरार राकेश नर्सवानी अभी फरार है। इस फरार आरोपी पर पुलिस ने 30 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है।
मृतक ने पुलिस से मांगी थी सुरक्षा
मृतक संदीप कोठारी के भाई राहुल और नवीन के मुताबिक, संदीप को खनन माफियाओं से लगातार जान से मार देने की धमकी मिल रही थीं। इस पर उन्होंने पुलिस में कई लोगों के खिलाफ नामजद शिकायत की थी, लेकिन उन्हें सुरक्षा प्रदान नहीं की गई।

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

चाचा-भतीजी में इश्क, साथ जीने मरने का वादा परिजनों ने शादी की नही दी मंजूरी तो दोनों फांसी पर झूले

उन्नाव के पुरवा में घर से एक किमी दूर बाग में पेड़ से नायलॉन की एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *