Search
Monday 13 July 2020
  • :
  • :
Latest Update

लखनऊ पुलिस ने हाई प्रोफाइल कार चोरों को दबोचा 5 करोड़ की लग्ज़री गाड़ियाँ बरामद

लखनऊ पुलिस ने हाई प्रोफाइल कार चोरों को दबोचा 5 करोड़ की लग्ज़री गाड़ियाँ बरामद

यह तस्वीर लखनऊ की है। लावारिस मिली एक कार की तफ्तीश के बाद इस गैंग का खुलासा हुआ। 50 लग्जरी गाड़ियों बरामद की गई हैं। पांच आरोपियों को पकड़ा गया है।

 

राजधानी लखनऊ में पुलिस ने अन्तरराज्यीय वाहन चोरों के हाइप्रोफाइल गैंग का खुलासा किया है इस गिरोह में एक भोजपुरी फिल्मों का कलाकार,कल्याण बोर्ड का ओएसडी तथा दिल्ली का एक बड़ा व्यापारी, कार बाजार का मालिक, कबाड़ का एक बड़ा कारोबारी व एक पत्रकार भी शामिल है। पुलिस ने इनके कब्जे से 5 करोड़ की 50 लग्जरी गाड़ियां बरामद की हैं। एक हजार से ज्यादा फर्जी नंबर की गाड़ियों का रिकॉर्ड भी बरामद हुआ है। पूछताछ में पता चला कि यह गिरोह अपने कारोबार को चमकाने के लिए ऑन डिमांड गाड़ियों की चोरी करता था तथा  एक्सीडेंटल और चोरी की गाड़ियों की  चेचिस और इंजन नंबर में फेरबदल कर करोड़ों का मुनाफा कमाता था।

                      इस गिरोह का पुलिस ने इस तरह किया खुलासा

पुलिस के मुताबिक 15 जून को चिनहट पुलिस द्वारा वाहन चेकिंग किये जा रहे थे  इसी दौरान एक आई-20 कार छोड़कर कुछ लोग भाग गए। पुलिस ने कार के नंबर के आधार पर मालिक की तलाश शुरू की। ऑनलाइन चेक किया गया तो गाड़ी का मालिक कैसरबाग के सुंदरबाग निवासी नासिर खान निकला। लेकिन, मोबाइल ऐप पर कार का मॉडल 2013 दिखा रहा था। जबकि कार देखने से 2019 की लग रही थी। संदेह होने पर पुलिस ने एफएसएल की टीम को जांच के लिए बुलाया। एफएसएल भी शुरूआती जांच में फेल हो गई। दोबारा तीन घंटे तक जांच करने के बाद एफएसएल के अधिकारियों ने चेचिस नंबर और इंजन नंबर के बदलने की पुष्टि की। इसकी रिपोर्ट के लिए पुलिस ने विधि विज्ञान प्रयोगशाला के निदेशक से पत्राचार किया। इसके बाद रिपोर्ट मिली। जब कार के मालिक की तलाश शुरू हुई तो कागज में दर्ज पते पर कोई मिला ही नहीं। डीसीपी पूर्वी के मुताबिक, जब सही चेचिस और इंजन नंबर की जांच की गई तो असली मालिक का पता चला। यह गाड़ी 5 जून को गोमतीनगर से चोरी हुई थी। इसके संबंध में केस दर्ज था।पांच दबोचे गएदिल्ली के बड़े व्यापारी समेत 10 की तलाश

अमीनाबाद के मॉडल हाउस निवासी नासिर खान उर्फ छोटी, पुराने कार बाजार का मालिक हुसैनाबाद ठाकुरगंज निवासी रिजवान, कानपुर के बर्रा का बड़ा कबाड़ कारोबारी श्यामजी जायसवाल, आलमबाग का रहने वाला विनय तलवार और हसनगंज शिवनगर खदरा का मोईनुद्दीन खान उर्फ पप्पू खान को पुलिस ने पकड़ा है। नासिर खान भोजपुरी फिल्मों का एक्टर है। वह अक्सर फिल्मों में आईपीएस अफसर का रोल करता है। पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि इस गिरोह का नेटवर्क पूरे देश में फैला है। यहां तक की नेपाल में भी लग्जरी गाड़ियां सेल की जाती हैं।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि इस गिरोह के 10 सदस्यों की तलाश की जा रही है। इसमें दिल्ली के बड़े व्यापारी और कल्याण बोर्ड का ओएसडी बताने वाला रोमी पाल सिंह, मेरठ का अबरार, अफजाल, आगरा का राजू शर्मा उर्फ राजू कोली उर्फ राहुल, मुरादाबाद का आरिफ, लखीमपुर पलिया के एसके कार सेल्स का शिबू, फजलगंज कानपुर का कबाड़ी सतपाल, दिल्ली का संदीप मारवा आदि शामिल हैं। इन आरोपियों का गिरोह से सीधा संपर्क है। वहीं, मछली मोहाल मॉडल हाउस का मो. कामिल और हजरतगंज नरही का रहने वाला मनीष टंडन है। इन सभी की तलाश की जा रही है पुलिस का मानना है की इनका नेटवर्क देश के कई राज्यों तक फैला हुआ है ।

 



Avatar

A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *