Search
Monday 13 July 2020
  • :
  • :
Latest Update

प्रदेश के बड़े शहरों में अब एंटीजेन टेस्ट से लगाया जाएगा संक्रमण की व्यापकता का पता

प्रदेश के बड़े शहरों में अब एंटीजेन टेस्ट से लगाया जाएगा संक्रमण की व्यापकता का पता

प्रदेश में कोरोना संक्रमण से प्रभावित बड़े शहरों में अब एंटीजेन टेस्ट से संक्रमण की व्यापकता का पता लगाया जाएगा। इसे आईसीएमआर ने भी मान्यता दे दी है। बड़े जिलों में आरटीपीसीआर के साथ यह टेस्ट भी किया जाएगा। एनसीआर के बड़े जिलों समेत लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर जैसे जिलों में एंटीजेन टेस्टिंग की जाएगी। रविवार को प्रदेश में 596 नए केस मिले हैं।

प्रवासी श्रमिकों, मलिन बस्तियों और संरक्षण गृहों के बाद प्रदेश के 668 सरकारी व निजी अस्पतालों के कर्मियों में कोरोना वायरस की रेन्डम चेकिंग की गई। 4577 नमूने जांच के लिए भेजे गए। इनमें 51 नमूने कोरोना पॉजिटिव पाए गए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर सर्विलांस का दायरा बढ़ाने के लिए मंगलवार को नया प्रोटाकॉल जारी होगा। इसके तहत एक केस नए मिलने पर 250 मीटर और एक से ज्यादा केस मिलने पर 500 मीटर का कंटेन्मेंट एरिया बनाया जाएगा। एक केस मिलने पर उस क्षेत्र में चार टीम और एक से ज्यादा मिलने पर 16 टीमें सर्विलांस के लिए लगाई जाएंगी।

यह जानकारी  चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को अपर मुख्य सचिव गृह व सूचना अवनीश अवस्थी के साथ एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में दी। श्री प्रसाद ने बताया कि रविवार को प्रदेश में 596 नए केस मिले हैं। अब तक 17731 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 10995 डिस्चार्ज हो चुके हैं। 550 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। अब कुल 6186 एक्टिव केस रह गए हैं।

इस तरह रिकवरी रेट 62.01 फीसदी हो गया है। पिछले 24 घंटों में 16125 नमूनों की टेस्टिंग की गई है। अब तक 5, 60, 697 नमूनों की टेस्टिंग की जा चुकी है। पूल टेस्टिंग के तहत 5-5 नमूने वाले 1521 पूल लिए गए। इनमें 233 पॉजिटिव पाए गए। 10-10 नमूने वाले 116 पूल लिए गए। इनमें 13 पॉजिटिव पाए गए।



Avatar

A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *