Breaking News

फसल बर्बादी के बाद हाहाकार, जलालपुरा का तो हर किसान कर्ज़दार

बुंदेलखंड में फसल बर्बादी के बाद हाहाकार मचा है। अब तक करीब 150 किसानों की मौत हो चुकी हैं। इन मौतों के पीछे सबसे बड़ी वजह कर्ज है। बुंदेलखंड का  जलालपुरा एक ऐसा गांव है, जहां का  हर किसान कर्ज में डूबा  हैं। ऐेसे में यदि यहां के किसानों को कर्ज के मामले में जेल भेजा गया, तो पूरा गांव खाली हो जाएगा। 700 मतदाता वाले इस गांव में किसानों पर 10 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज है। हालत ये है कि जो किसान अपने बेटों को इंजीनियर बनाना चाहते थे, उनकी पढ़ाई छूट चुकी है जो अपनी बेटी की सदी करना चाहते  थे पैसे की वजह से बेटियों की शादी नहीं कर पा रहें  है।
 इस साल लगातार बारिश, आंधी और ओलावृष्‍टि होने की वजह से किसानों की फसलें बर्बाद हो चुकी हैं। ऐसे में बैंक कर्ज के तले दबे किसानों की सदमे से मौत हो रही है या वे आत्महत्या कर रहे हैं। जलालपुरा गांव के किसानों ने बताया कि उन्हें केंद्र और राज्‍य सरकार द्वारा मुआवजा देने की खबर मिली है, लेकिन मुआवजा तो दूर अब तक इस गांव में सर्वे के लिए एक लेखपाल तक नहीं आया। हालात इतने बदतर हैं कि कर्ज के एवज में लोग जेल जाने को भी तैयार हैं।
गांववालों का कहना है कि कर्ज के कारण यदि जेल जाने की नौबत आई, तो पूरा का पूरा गांव खाली हो जाएगा। यहां तक कि महिलाओं को भी जेल जाना पड़ जाएगा, क्‍योंकि सभी कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं। इस गांव के किसानों पर सिर्फ यूपी ग्रामीण बैंक का ही एक करोड़ 89 लाख रुपए बकाया है। ग्रामीण बैंक सहित अन्य बैंकों ने इस गांव को सबसे बड़ा डिफॉल्टर घो%

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

मारपीट से शुरू हुआ विकास दुबे के अपराध का सफर

कानपुर में गुरुवार देर रात दबिश देने गई पुलिस टीम के आठ जवानों को मौत …