Search
Sunday 21 April 2019
  • :
  • :
Latest Update

जिला फोरम से परिवादी को मिला न्याय, गोल्डरश सेल्स & सर्विसेज लिमिटेड को वापस देनी होगी गाड़ी की राशि

जिला फोरम से परिवादी को मिला न्याय, गोल्डरश सेल्स & सर्विसेज लिमिटेड को वापस देनी होगी गाड़ी की राशि
लखनऊ ब्यूरो ! जिला फोरम द्वारा परिवादी अप्रतिम श्रीवास्तव को आखिर न्याय मिल ही गया अब  गोल्डरश सेल्स & सर्विसेज लिमिटेड को वापस  देना होगा  गाडी का पैसा एवं एक लाख अतरिक्त जो परिवादी को  क्षति  के रूप में मिलेगा !
परिवादी के अधिवक्ता गीता पाटिल के मुताबिक परिवादी ने गोल्डरश सेल्स & सर्विसेज लिमिटेड फैज़ाबाद रोड लखनऊ से एक टाटा नैनो  यूपी ३२ – ईवि -०३४६ खरीदी थी, जिसका वारंटी कार्ड व् सर्विस बुकलेट विपक्षी द्वारा नहीं दिया गया , परिवादी  के  कई  बार कहने पर भी जब कोई ध्यान नहीं किया गया तो  परिवादी को गोल्ड ऐ एम् सी  करनी पड़ी , इस बारे में परिवादी ने टाटा मोटर्स में शिकायत की , तभी गोल्डरश सेल्स के स्टाफ ने परिवादी को गाली गलौज करके वारंटी कार्ड दिया. दिनांक २९.०७.१३ को गाड़ी की प्रथम बार सर्विसिंग करने पे पता चला कि  दिनांक २३.०३.१२ को यह गाडी  बिक गयी  है , टाटा मोटर्स के रिकॉर्ड में तथा गोल्डरश के सर्विस सेण्टर से मिले जॉब कार्ड में हर जगह गाड़ी की विक्रय तारीख २३.०३.१२ ही पायी गयी , वारंटी कार्ड पर परिवादी को भ्रमित  करने के हेतु  पुरानी सेल्स डेट व् परिवादी ने जिस दिन खरीदी ऐसे २ सेल्स डेट लिखी थी! असल में परिवादी को १ साल पुरानी गाड़ी नयी बताकर बेचीं गयी थी  , इस बारे में गोल्डरश से बार  बार बातचीत व् लिखा पढ़ी भी गयी किन्तु कोई समाधान नहीं निकला बल्कि उनके स्टाफ द्वारा परिवादी के साथ  गलत व्यवहार हमेशा किया गया |
परिवादी ने अपनी कंप्लेंट जिला उपभोक्ता फोरम-1 लखनऊ में दिनांक २७.०९.१६ को दाखिल की यहाँ पर भी कार्यालय की भूल से परिवादी का वाद गलती से समझौता के आधार पर ख़ारिज कर दिया  गया , परिवादी के मामले को देख रही अधिवक्ता  गीता पाटिल द्वारा स्टेट फोरम में वाद पुनर्थापन के लिए अपील की गयी , ये अपील मंजूर होकर दिनांक ११.०१.१९ आदेश द्वारा वाद जिला फोरम में पुनर्थापित हुई  |
 एडवोकेट गीता पाटिल द्वारा जिला फोरम में साक्ष्य प्रस्तुत कर बहस की गयी दिनांक ११.०४.१९ आदेश पारित हुआ और परिवादी को न्याय मिला
जिला फोरम का आदेश कुछ इस तरह हुआ …….
विपक्षी संख्या १ को आदेशित किया जाता है की वह परिवादी को ३० दिन के अंदर मुब्लिग़ – १,९०,००० /- ( एक लाख नब्बे हजार रूपया मात्र ) ०९ प्रतिशत वार्षिक ब्याज के साथ जो निर्णय की तिथि से भुगतान की तिथि तक डे होगा अदा करेंगे | साथ ही साथ परिवादी को मानसिक , शारीरिक क्षति के लिया मुब्लिग़ – १००००० /- ( एक लाख रूपया ) अदा करेंगे | यदि आदेश का पालन निर्धारित अवधि में नहीं किया जाता है , तो सम्पूर्ण राशि पर १२ प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज भुगतान करना होगा | पूर्ण भुगतान प्राप्त होने पर परिवादी उक्त वाहन वापस करेंगा  | विपक्षी संख्या -२ टाटा मोटर्स को यह निर्देश दिया जाता है की वे अपने डीलर विपक्षी संख्या – १ गोल्डरश सेल्स & सर्विसेज़ लिमिटेड  , गोपाल प्लाजा अपोजिट एच ऐ एल , फैज़ाबाद लखनऊ का डीलरशिप निरस्त करने की कार्यवाही करेंगे , जिससे कंपनी की साख बची रहे |



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *