Search
Tuesday 19 March 2019
  • :
  • :
Latest Update

बसपा ने जारी किये लोकसभा चुनाव से जुड़े जरूरी दिशा-निर्देश

बसपा ने जारी किये लोकसभा चुनाव से जुड़े जरूरी दिशा-निर्देश

बसपा ने अपने कार्यकर्ताओं  को लोकसभा चुनाव से पहले प्रचार-प्रसार सामग्री छपवाने और उसे लगाने के लिए जहाँ विस्तृत निर्देश दिए गए हैं वहीं  होर्डिंग और बैनर या फिर अन्य किसी तरह की प्रचार समग्री में बहन मायावती के बराबर तस्वीर न छपवाने के  लखनऊ मंडल के सम्मेलन में पार्टी कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों को  सख्त निर्देश दिए गए हैं।

बसपा सुप्रीमो मायावती के निर्देश पर मंगलवार को बिजली पासी किले के पास आयोजित मंडलीय सम्मेलन में लोकसभा चुनाव से जुड़े जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए। लखनऊ मंडल जोन प्रभारी एमएलसी भीमराव अंबेडकर ने सम्मेलन में मायावती के निर्देशों को एक-एक कर बताया। उन्होंने यह भी बताया कि लोकसभा चुनाव में होर्डिंग और बैनर बहुत समझ-बूझ कर लगाए जाएं। होर्डिंग में बसपा सुप्रीमो मायावती के सामने उनके बराबर कोई अपनी फोटो न लगाएं। बहन जी के सामने कांशीराम या फिर बसपा चुनाव चिह्न हाथी की फोटो लगाई जाए। ऊपर समाज के महापुरुषों की फोटो लगेगी और नीचे होर्डिंग लगाने वाले की फोटो लगेगी। इतना ही नहीं इसे बनवाने से पहले अनुमति भी लेनी होगी।

सपा से जमीनी स्तर पर तालमेल बैठाएं
मंडल जोन प्रभारी ने संगठन के लोगों से कहा कि लोकसभा चुनाव में बसपा सपा से गठबंधन करके चुनाव लड़ रही है। इसीलिए सपा के लोगों से बसपा कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर तालमेल बैठाएं। उन्होंने बताया कि मायावती ने निर्देश दिया है कि जिन सीटों पर सपा चुनाव लड़ रही है वहां बसपा के लोग सपा से बेहतर तालमेल बठाएं। अपने लोगों को समझाएं कि सपा को वोट करना है। सपा की तरफ से साधन भेजने का इंतजार न करें। अपने साधन से सपा के प्रचार में लगें।

बताएं हाथी नहीं साइकिल को वोट दें
बसपा संगठन के लोगों को यह भी बताया गया कि जिन सीटों पर सपा चुनाव लड़ रही है, वहां अपने लोगों को बताएं कि उन्हें हाथी नहीं साइकिल को वोट देना है। वरना अपने समाज का वोटर वहां जाएगा और हाथी चुनाव चिह्न को खोजता रह जाएगा। इसलिए अपने वोटरों को इस बारे में पहले से ही सचेत कर दिया जाए कि यहां हाथी का साथी साइकिल है और इसे ही वोट करना है।

ईवीएम के प्रति सचेत किया
मंडलीय सम्मेलन में बसपा के लोगों को ईवीएम के प्रति भी सचेत किया गया। निर्देश दिया गया कि अपने वोटों को समझाया जाए कि वह देख-समझ कर ईवीएम का बटन दबाए। वीवीपीएटी मशीन से जब तक हाथी या साइकिल की पर्ची नहीं निकल आती है, तब तक वहीं रुका रहे। पर्ची में दूसरा चुनाव चिह्न निकलने पर पोलिंग अधिकारी और वहां मौजूद मीडिया को इसकी जानकारी देगा। ईवीएम से जुड़ी जानकारियों के संबंध में लिखित जानकारियां भी बांटी गई।

जिलों में सम्मेलन 8 से
मायावती के निर्देश पर जिलों में सम्मेलन 8 मार्च से शुरू होगा। लखनऊ मंडल में आने वाले जिलों में रायबरेली 8 मार्च, उन्नाव 9 मार्च, लखनऊ 10 मार्च, खीरी 11 मार्च, सीतापुर 12 मार्च और हरदोई में 13 मार्च को सम्मेलन होगा। इसके साथ ही 15 मार्च को कांशीराम की जयंती मनाने का निर्देश दिया। साथ ही पार्टी फंड के लिए चंदा जमा करने को भी कहा।

लखनऊ मंडल को दो हिस्सों में बांटा
लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए लखनऊ मंडल को दो हिस्सों में बांटा गया है। पहला- लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली। इसके प्रभारी विजय गौतम, हरमेष पासी व मिथलेश बनाए हैं। दूसरा- सीतापुर, हरदोई व लखीमपुर खीरी। विनोद भारती, सुनील कुमार राजवंशी व सोहबरन लाल गौतम। इसके अलावा प्रत्येक जिले में तीन से आठ सह प्रभारी बनाए गए हैं। लखनऊ जिले में आठ प्रभारी बनाए गए हैं .



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *