Breaking News

अधिकारियों ने ट्रेनी पुलिसकर्मियों से ही 14 लाख घूस ले ली , तीन सस्पेंड

सुलतानपुर – उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर में ट्रेनी पुलिसकर्मियों से ‘गुरु दक्षिणा’ के तौर पर नए रंगरूटों से 14 लाख से अधिक रुपये की वसूली सामने आई है। प्रशिक्षण में शामिल आरटीसी मेजर समेत तीन बड़े अधिकारियों और 10 ट्रेनर्स का नाम उजागर होने के बाद पुलिस अधीक्षक (एसपी) ने बड़ी कार्रवाई की है।घूस कांड में शामिल आरटीसी मेजर, आरटीसी सूबेदार, आरटीसी मुन्शी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है जबकि 10 ट्रेनर्स के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई करने के लिए संबंधित जिलों को पत्र लिखा गया है। सुलतानपुर जिले की पुलिस लाइन में 160 रंगरूटों का प्रशिक्षण कराया गया था। 24 जनवरी को प्रशिक्षण पूरा कर इनकी पासिंग आउट परेड 26 जनवरी को हुआ। उसी दौरान इन रंगरूटों से औसतन प्रति प्रशिक्षु 10 हजार रुपये परीक्षा पास कराने और सुविधाएं मुहैया कराने के लिए वसूले गए।
नौकरी जाने के डर से किसी ने नहीं की शिकायत
बताया गया कि नौकरी जाने के डर के चलते किसी प्रशिक्षु ने इसकी शिकायत नहीं की। धीरे-धीरे मामला बढ़ा तो इसकी जानकारी पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स को हुई। एसपी ने रंगरूटों से सख्ती के साथ पूछताछ की तो पैसे देने की बात सही साबित हुई। बुधवार को एसपी ने आरटीसी मेजर बृजमणि राय, आरटीसी सूबेदार कमलेश सिंह, आरटीसी मुन्शी अफरोज को निलंबित कर दिया।
इसके अलावा प्रशिक्षण देने वाले ट्रेनर्स मनीष यादव, दिनेश राम 35 वाहिनी पीएसी लखनऊ, कासीम अली अंसारी 11 वाहिनी पीएसी सीतापुर, धर्मनारायण पाण्डेय, धनंजय पाण्डेय, पंकज यादव, फौज आलम अंसारी, प्रवीण यादव, जयनारायण यादव, कैलाश यादव, मुन्ना यादव के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई के लिए पत्र भेजा गया है।

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

विकास के साथ हर छोटे-बड़े अपराध में शामिल भाई की भी ना ही हिस्ट्रीसीट खुली न ही अपराधियों की सूची में नाम डाला गया,जांच में हुआ खुलासा

दहशतगर्द विकास दुबे का सगा भाई 16 साल से जमानत पर बाहर है। वह विकास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *