Breaking News
Dainik Bhaskar Hindi

Kerala: विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को करारा झटका, पूर्व सांसद पीसी चाको ने इस्तीफा दिया, हाईकमान पर साधा निशाना

डिजिटल डेस्क, तिरुवनंतपुरम। विधानसभा चुनाव से पहले केरल में कांग्रेस को करारा झटका लगा है। वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद पीसी चाको ने बुधवार को सीटों के आवंटन के विरोध में पार्टी से इस्तीफा दे दिया। चाको ने आरोप लगाया कि सीटों को गुटों के आधार पर विभाजित किया गया। चाको ने पार्टी केंद्रीय नेतृत्व को दोषी ठहराया। 74 वर्षीय चाको ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना त्याग पत्र भेज दिया है।

क्या कहा पीसी चाको ने?
पीसी चाको ने कहा, मैंने कांग्रेस छोड़ दी है और पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है। मैं पिछले कई दिनों से इस फैसले पर विचार कर रहा था। उन्होंने कहा कि कोई भी स्वाभिमानी राजनेता केरल कांग्रेस में नहीं रह सकता है और योग्यता की किसी को कोई चिंता ही नहीं है। चाको ने कहा, मैं केरल से आता हूं जहां कांग्रेस जैसी कोई पार्टी नहीं है। वहां दो पार्टियां हैं- कांग्रेस (I) और कांग्रेस (A)। केरल कांग्रेस इन दो पार्टियों की कोऑर्डिनेशन समिति के तौर पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस (A) समूह का नेतृत्व पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी कर रहे हैं। वहीं कांग्रेस (I) समूह का नेतृत्व राज्य प्रमुख रमेश चेन्निथला कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये समूह पिछले काफी सालों से सक्रिय हैं।

शीर्ष नेतृत्व पर निशाना साधा
शीर्ष नेतृत्व पर निशाना साधते हुए चाको ने कहा, केरल में अहम चुनाव होने वाले हैं। लोग कांग्रेस की वापसी चाहते हैं, लेकिन शीर्ष नेता गुटबाजी में लगे हुए हैं। मैं हाईकमान से कह चुका हूं कि यह सब खत्‍म होना चाहिए, लेकिन हाईकमान भी दोनों समूहों के प्रस्‍तावों पर सहमति जता रहा है। उन्होंने कहा, कांग्रेस में कोई लोकतंत्र नहीं बचा है। प्रत्याशियों की सूची के बारे में प्रदेश कांग्रेस समिति से चर्चा नहीं की गई। चाको ने कहा, कांग्रेसी होना सम्‍मान की बात है, लेकिन केरल में आज कोई कांग्रेसी नहीं हो सकता है। या तो वह (I) गुट से हो सकता है या फिर (A) गुट से, इसलिए मैंने इससे बाहर निकलने का फैसला किया। इस आपदा को हाईकमान मूकदर्शक बनकर देख रहा है और कोई हल नहीं है।

विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 6 अप्रैल को
बता दें, केरल में  विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 6 अप्रैल को एक ही चरण में होगा। चुनावों के परिणाम 2 मई को घोषित किए जाएंगे। यहां विधानसभा की 140 सीटें हैं। वर्तमान में यहां सीपीआई (एम) के नेतृत्व वाले लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) की सरकार है और पिनाराई विजयन मुख्यमंत्री हैं। पिछले चुनाव में एलडीएफ को 91 और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) को 47 सीटें मिली थीं। यहां बहुमत के लिए 71 सीटें चाहिए।

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
PC Chacko quits Congress ahead of Kerala polls
. .

.

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

Dainik Bhaskar Hindi

लॉकडाउन के डर से पलायन: मुंबई और दिल्ली से लौट रहे प्रवासी, नौकरी से निकाल रहीं कंपनियां, रेलवे स्टेशनों पर भीड़

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते संक्रमित मरीजों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *