Breaking News
Earthquake: प्रशांत महासागर में 7.7 तीव्रता का भूकंप, न्यूजीलैंड से इंडोनेशिया तक असर, कई देशों में सुनामी का अलर्ट

Earthquake: प्रशांत महासागर में 7.7 तीव्रता का भूकंप, न्यूजीलैंड से इंडोनेशिया तक असर, कई देशों में सुनामी का अलर्ट

डिजिटल डेस्क, वेलिंगटन। दक्षिणी प्रशांत महासागर में बुधवार शाम आए भूकंप के शक्तिशाली झटके ने न्यूजीलैंड समेत वानुअतु और न्यू केलेडोनिया को हिलाकर रख दिया। रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 7.7 के आसपास मापी गई। भूकंप के बाद उस क्षेत्र में सूनामी का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने दक्षिणी प्रशांत महासागर के देशों के लिए सुनामी की चेतावनी जारी की है। इसके बाद सभी देशों में आपातकालीन सहायता एजेंसिया अलर्ट पर हैं।

सूनामी वार्निंग सेंटर ने बताया कि भूकंप के बाद 3 फीट ऊंची लहरें उठीं। इससे न्यूजीलैंड, फिजी और वानुअतु में ज्यादा खतरा है। इस एरिया में ताकतवर भूकंप से कई आईलैंड्स को बड़ा खतरा है। US जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, भूकंप का केंद्र केलेडोनिया से 415 किलोमीटर दूर समुद्र में 10 किमी की गहराई में था।

रिंग ऑफ फायर पर स्थित है पूरा इलाका
न्यूजीलैंड, वनुआतू और दूसरे प्रशांत द्वीपों में भूकंप आने की आशंका हमेशा बनी रहती हैं। यह इलाका महासागर के चारों ओर भूकंपीय फॉल्ट लाइनों की एक घोड़े की नाल के आकार की श्रृंखला “रिंग ऑफ फायर” के साथ स्थित है।

यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने जारी की चेतावनी
प्रशांत सुनामी चेतावनी एजेंसी ने कहा कि अगले तीन घंटों के भीतर इस भूकंप से खतरनाक सुनामी लहरें संभव हैं। केंद्र ने कहा कि लहरों की ऊंताई 0.3 से लेकर एक मीटर के बीच हो सकती हैं।

इन देशों में सुनामी का अलर्ट
फिजी, न्यूजीलैंड और वानुअतु के कुछ तटों के लिए संभव हैं। ऑस्ट्रेलिया, कुक आइलैंड्स और अमेरिकन समोआ सहित अन्य देशों के लिए छोटी लहरों की संभावना जताई गई है। इस भूकंप से किसी के हताहत होने या नुकसान की कोई प्रारंभिक रिपोर्ट नहीं है।

सूनामी क्या है?
समुद्र के भीतर अचानक जब बड़ी तेज़ हलचल होने लगती है तो उसमें उफान उठता है। इससे ऐसी लंबी और बहुत ऊंची लहरों का रेला उठना शुरू हो जाता है जो ज़बरदस्त आवेग के साथ आगे बढ़ता है। इन्हीं लहरों के रेले को सूनामी कहते हैं। दरअसल सूनामी जापानी शब्द है जो सू और नामी से मिल कर बना है सू का अर्थ है समुद्र तट और नामी का अर्थ है लहरें। सूनामी लहरों के पीछे सबसे ज्यादा बड़ा कारण है भूकंप। इसके अलावा ज़मीन धंसने, ज्वालामुखी फटने, किसी तरह का विस्फोट होने और कभी-कभी उल्कापात के असर से भी सूनामी लहरें उठती हैं।

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

Earthquake: 7.7 magnitude earthquake in Pacific Ocean, tsunami alert in many countries
. .

.



Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

बांग्लादेश में सोमवार से लग सकता है संपूर्ण लॉकडाउन

बांग्लादेश में सोमवार से लग सकता है संपूर्ण लॉकडाउन

डिजिटल डेस्क, ढाका। बांग्लादेश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती दर के कारण सरकार देश में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *