Breaking News
Dainik Bhaskar Hindi

CWC Meeting: कांग्रेस ने अर्नब गोस्वामी की वॉट्सएप चैट लीक पर जेपीसी की डिमांड की, जून तक होगा पार्टी प्रेसिडेंट का चुनाव

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस कार्य समिति (CWC) ने शुक्रवार को बैठक की और राष्ट्रीय महत्व के तीन मुद्दों पर प्रस्ताव पारित किए। इसमें किसान आंदोलन, कोरोनावायरस वैक्सीन और पत्रकार अर्नब गोस्वामी के वॉट्सेप चैट लीक का मामला शामिल हैं। पार्टी ने जून 2021 तक कांग्रेस के नए अध्यक्ष का चुनाव करने की भी घोषणा की।

1.सीडब्ल्यूसी ने किसानों के विरोध पर एक प्रस्ताव पारित किया है। इस प्रस्ताव के तहत पार्टी तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार का विरोध करेगी।

2.पार्टी ने इतने कम समय में कोविड-19 वैक्सीन विकसित करने के लिए वैज्ञानिकों को धन्यवाद दिया और लोगों से टीकाकरण के लिए आगे आने की अपील की।

3.पार्टी की ओर से पारित एक अन्य प्रस्ताव में एक संयुक्त संसदीय समिति द्वारा रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी और ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता के बीच कथित वॉट्सएप चैट की जांच की मांग की गई।

क्या कहा सोनिया गांधी ने?
अपने ओपनिंग रिमार्क में, अंतरिम पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कई मुद्दों पर सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि संसद के आगामी सत्र में सार्वजनिक सरोकार के कई मुद्दे पर बहस और चर्चा की जरूरत है। किसानों के आंदोलन को लेकर सोनिया ने कहा कि सरकार ने किसानों के साथ चर्चा असंवेदनशीलता और अहंकार दिखाया है। 

अर्नब गोस्वामी और पार्थो दासगुप्ता के बीच कथित वॉट्सएप चैट को लेकर उन्होंने कहा कि ये रिपोर्ट्स काफी परेशान वाली है कि किस तरह राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया गया। सोनिया गांधी ने कहा, कुछ दिन पहले ही, एके एंटनी ने कहा था कि मिलिट्री ऑपरेशन के ऑफिशियल सीक्रेट को लीक करना देशद्रोह है। फिर भी, जो कुछ भी सामने आया है, उस पर सरकार की ओर से चुप्पी हैरान करती है। उन्होंने कहा कि जो लोग दूसरों को देशभक्ति और राष्ट्रवाद का प्रमाण पत्र देते हैं, वे अब पूरी तरह से एक्सपोज हो चुके हैं।

पार्टी प्रेसिडेंट के चुनाव को लेकर बहस
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पार्टी प्रेसिडेंट की चुनाव की तारीख को लेकर पार्टी के दो गुटों के बीच बहस हुई।  मीटिंग में शामिल गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, मुकुल वासनिक और पी चिदंबरम ने संगठन के चुनाव तुरंत करवाने की मांग की।

लेकिन, अशोक गहलोत, अमरिंदर सिंह, एके एंटनी, तारिक अनवर और ओमान चांडी ने आपत्ति जताई। इन्होंने कहा कि पार्टी अध्यक्ष का चुनाव 5 राज्यों के चुनावों के बाद होना चाहिए।​​​​​​ ऐसे में राहुल गांधी को दखल देना पड़ा। राहुल ने कहा- सभी से कह रहा हूं कि अब इस मुद्दे को छोड़िए और आगे बढ़िए।

बता दें कि 2019 में हुए लोकसभा चुनाव के बाद राहुल गांधी ने पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद सोनिया गांधी ने बतौर कार्यकारी अध्यक्ष फिर से पार्टी की कमान संभाली थी। कांग्रेस नेताओं का एक गुट फुलटाइम और एक्टिव प्रेसिडेंट चुनने की मांग कर रहा है। 

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
Congress demands JPC on Arnab WhatsApp chat leak, party president to be elected by June
. .

.

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

Dainik Bhaskar Hindi

लॉकडाउन के डर से पलायन: मुंबई और दिल्ली से लौट रहे प्रवासी, नौकरी से निकाल रहीं कंपनियां, रेलवे स्टेशनों पर भीड़

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते संक्रमित मरीजों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *