Breaking News

40 लाख का बीमा करवाकर तीसरी पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर कर दबाया हेड कांस्टेबल का गला, श्वास नली टूटने से मौत

  • माधव नगर पुलिस ने देवास रोड स्थित 32वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक बलवीर सिंह चौहान (54) के अंधे कत्ल का खुलासा किया
  • पत्नी रेखा ने शहडोल निवासी प्रेमी सीआरपीएफ जवान रवि के साथ मिलकर पति की हत्या कर लाश को छत पर लिटाया था

दैनिक भास्कर

Jun 20, 2020, 06:55 PM IST

उज्जैन. देवास रोड स्थित 32वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक बलवीर सिंह चौहान (54) के अंधे कत्ल का खुलासा पुलिस ने शनिवार काे कर दिया। हेड कांस्टेबल की हत्या की वजह बीमे की 40 लाख की रकम बनी। इन्हीं रुपयाें के लिए तीसरी पत्नी रेखा ने शहडोल निवासी प्रेमी के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया। पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि आरोपी प्रेमी फरार है।

पुलिस के अनुसार जांच के दौरान पता चला कि मृतक का पत्नी रेखा (34) के साथ विवाद हुआ था। पूछताछ में उसने बताया कि योजना के अनुसार प्रेमी रवि निवासी शहडोल के साथ मिलकर उसने कमरे में ही गला दबाकर पति की हत्या कर दी। मौत को सामान्य दिखाने के लिए लाश को उसने छत पर बिस्तर बिछाकर लिटा दिया। इसके बाद प्रेमी से क्वाॅर्टर का दरवाजा बाहर से बंद करवा दिया और भीतर जाकर सो गई।

प्रेमी और पत्नी ने मिलकर भरी थी बीमे की किश्त

पूछताछ में रेखा ने बताया कि हत्या की योजना रवि के साथ मिलकर काफी समय पहले ही बना ली थी। योजना के तहत मृतक का माह मार्च में 40 लाख का बीमा उज्जैन से कराया था। जिसकी आधी किश्त 25 हजार रुपए रवि ने और 20 हजार मैंने दी थी। हत्या के बाद मिलने वाली राशि को दोनों में बराबर बांटने का करार हुआ था। इसके बाद रेखा पति से विवाद कर पिछले साल दिसंबर में करीब 25 दिन वह रवि के साथ जबलपुर, कटनी, मंडला और रायपुर में अलग-अलग होटलों में रुकी। यहीं पर हत्या की पूरी प्लानिंग की गई। घटना का मुख्य आरोपी रवि कुमार पनिका शहडोल का रहने वाला है और अभी सीआरपीएफ रायपुर में तैनात है। वरदात के बाद से ही वह फरार है। 
यह है पूरा घटनाक्रम
देवास रोड स्थित 32वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक बलवीर सिंह चौहान (54) की शुक्रवार को घर की छत पर लाश मिली थी। मुंह व नाक से खून बह रहा था। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया, जिसमें डॉक्टरों ने गले की श्वास नली टूटना बताया है। जिसके बाद एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह चौहान व सीएसपी रवींद्र वर्मा शाम को माधवनगर थाने पहुंचे व मृतक की पत्नी को हिरासत में लिया। जवान की पत्नी से देर रात तक पूछताछ की गई। बलवीर मूलत: कानपुर का रहने वाला था और रेखा उसकी तीसरी पत्नी है।

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

भगवान का डर… एक चोर ने हनुमानजी का मुकुट उठाया तो अन्य साथियों ने मना कर दिया, जाते-जाते हनुमान जी के पैर छुए

नसैनी से गुंबद फिर लेजम के सहारे गर्भगृह में उतरे चोरों ने 8 दान पात्रों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *