Breaking News
शरद पवार की सचिन तेंदुलकर को सलाह, अन्य क्षेत्रों से संबंधित मुद्दों पर बोलते समय सावधान रहें

शरद पवार की सचिन तेंदुलकर को सलाह, अन्य क्षेत्रों से संबंधित मुद्दों पर बोलते समय सावधान रहें

डिजिटल डेस्क, मुंबई। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर के किसान आंदोलन को लेकर किए ट्वीट पर सियासी घमासान छिड़ता नजर आ रहा है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने सचिन तेंदुलकर और लता मंगेश्कर के किसान आंदोलन को लेकर दिए बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि आंदोलन को लेकर जो राय इन्होंने रखी है, उससे जनता में नाराजगी है। मैं सचिन को सुझाव दूंगा कि वह अन्य क्षेत्रों से संबंधित मुद्दों पर बोलते समय सावधान रहें।

उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को बदनाम करने के लिए सत्ताधारी दल के नेता कभी आंदोलनकारियों को खालिस्तानी कहते हैं तो कभी कुछ और कहकर बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

बता दें कि भारत में चल रहे किसान आंदोलन के मसले पर एक के बाद एक आ रहे इंटरनेशनल सेलिब्रिटीज के बयान पर सचिन तेंदुलकर अन्य कई हस्तियों ने रिएक्ट किया था। सचिन तेंदुलकर ने ट्वीट कर लिखा था, भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता है। बाहरी ताकतें दर्शक हो सकती हैं लेकिन प्रतिभागी नहीं। भारतीय लोग भारत को जानते हैं और उन्हें ही भारत के लिए फैसला लेना चाहिए। आइए एक राष्ट्र के रूप में एकजुट रहें। वहीं पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले ने भी ट्वीट कर लिखा था, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में भारत अपने आंतरिक मुद्दों को सौहार्दपूर्ण तरीके से सुलझाने में सक्षम है। 

बॉलीवुड सिंगर लता मंगेशकर ने कहा था, ‘भारत एक गौरवशाली राष्ट्र है और हम सभी भारतीय अपने सिर उठाकर साथ खड़े हैं। एक गर्वित भारतीय के रूप में, मुझे पूर्ण विश्वास है, कि कोई भी समस्या हमारे सामने है; हम अपने लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए, उन्हें सौहार्दपूर्ण ढंग से हल करने के लिए पूरी तरह से सुसज्जित हैं।’  एक्टर अक्षय कुमार ने भी विदेश मंत्रालय की ओर से शुरू किए गए हैशटैग #IndiaTogether के साथ लिखा था, किसान हमारे देश का एक अहम हिस्सा है। उनकी परेशानियों का हर संभाव समाधान निकालने का प्रयास किया जा रहा है। इस प्रयास का समर्थन करना चाहिए। जो भी दूरियां पैदा करने की कोशिश कर रहा है, उन पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

कई इंटरनेशनल हस्तियों ने किसान आंदोलन पर किया था ट्वीट
इंटरनेशनल सिंगर रिहाना, क्‍लाइमेट एक्टिविस्‍ट ग्रेटा थनबर्ग और अमेरिकी उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस की रिश्‍तेदार मीना हैरिस समेत कई बड़ी हस्तियों ने भारत में कृषि कानून के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी। 32 वर्षीय पॉप स्टार रिहाना ने दिल्ली के पड़ोसी राज्य हरियाणा के कई जिलों में इंटरनेट बंद होने पर एक न्यूज वेबसाइट की खबर को शेयर करते हुए किसानों का पक्ष लिया था। रिहाना ने लिखा था, ‘हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?’

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
Sachin Tendulkar should be careful about speaking on farmers says Sharad Pawar
. .

.

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

Dainik Bhaskar Hindi

लॉकडाउन के डर से पलायन: मुंबई और दिल्ली से लौट रहे प्रवासी, नौकरी से निकाल रहीं कंपनियां, रेलवे स्टेशनों पर भीड़

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते संक्रमित मरीजों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *