Breaking News

भागलपुर में कम हाे रहा काेराेना का कहर, एक सप्ताह से तेज हुई मरीजों की रिकवरी

  • नारायणपुर के पीएचसी कर्मी व गाेपालपुर की आशा समेत 4 पाॅजिटिव, 14 काे छुट्टी
  • पिछले दाे दिनाें में 27 मरीजाें काे मिली छुट्टी, आठ नए मरीज मिले

दैनिक भास्कर

Jun 21, 2020, 06:07 AM IST

भागलपुर. जिले में कोरोना संकमण की रफ्तार काफी हद तक कम हुई है। अब जिले में नए मरीज के मुकाबले रिकवरी ज्यादा है। पिछले दाे दिन में जिले में अाठ नए मरीज मिले हैं जबकि 27 काे अस्पताल से छुट्टी मिली है। अनलॉक-1 में एक जून से अब तक 209 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं, जबकि इस अवधि में 176 मरीज एडमिट हुए हैं। सबसे ज्यादा रिकवरी दस दिनों में हुई है। दस दिन में 119 लोग स्वस्थ हुए। जबकि 71 संक्रमित लोगों को एडमिट किया गया है। इन दस दिन में आठ दिन ऐसे हैं जिनमें जितने मरीज संक्रमित हुए हैं उससे ज्यादा काे अस्पताल से छुट्टी मिली है। काेराेना वार्ड के नोडल पदाधिकारी डॉ. हेमशंकर शर्मा ने बताया कि मायागंज अस्पताल के चिकित्सकों और पारा मेडिकल स्टाफ की कड़ी मेहनत के चलते यह सफलता मिली है। सैंपलिंग में तेजी के बावजूद मरीजों की संख्या कम है। यह भागलपुर के लिए सुखद है। शनिवार काे कोविड केयर सेंटर से 14 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। जबकि चार नए मरीज भर्ती हुए। जिले में संक्रमिताें की संख्या 360 हाे गयी।

पल्स पोलियो अभियान में सुपरवाइजर है पीएचसी कर्मी 
 सिविल सर्जन डाॅ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि गाेपालपुर की 30 वर्षीय अाशा कार्यकर्ता समेत चार की रिपाेर्ट शनिवार को पॉजिटिव आई है। नए मरीजाें में पीरपैंती के दो व नारायणपुर के एक मरीज भी शामिल हैं। नारायणपुर पीएचसी प्रभारी डॉ. विजयेंद्र कुमार विद्यार्थी ने बताया कि 35 वर्षीय संक्रमित पीएचसी कर्मचारी गनौल गांव का रहने वाला है। पीएचसी में पल्स पोलियो अभियान में सुपरवाइजर है। गोपालपुर के पीएचसी प्रभारी डॉ. सुधांशु कुमार ने बताया कि वीरनगर गांव की एक महिला की कोरोना जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है। वह अपने पति से संक्रमित हुई है। 

इन्हें किया गया डिस्चार्ज : सबौर के युग कुमार (10), नैना (26), मो. शकील (22), सुल्तानगंज के विनय (9), नारायणपुर के सौरव (19), नगरपारा के कौशल किशोर (48), धरहरा के मृत्युंजय कुमार (21), मो. सद्दाम (27), नुनिया खातुन (55), जगतपुर के प्रदीप सिंह (30), प्रेम कुमार (25), अमिया बाजार के मो. जलील (30), मिरजान के विनय भगत (30) और कुरपट के पिंटू पंडित (36)।

इधर संकट ये….कोरोना वॉरियर्स हो रहे संक्रमित
जिले में काेराेना का संक्रमण कम जरूर हुआ है, लेकिन हेल्थकेयर वर्कराें के संक्रमित हाेने से मेडिकल कर्मचारियाें में डर समा गया है। इससे इनके काम पर असर पड़ सकता है। शनिवार काे भी नारायणपुर का पीएचसी कर्मचारी व नारायणपुर की आशा की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई। तीन दिन पहले गाेपालपुर की नर्स और शुक्रवार काे नारायणपुर की आशा पाॅजिटिव हाे गईं थी। इससे पहले जेएलएनएमसीएच में तैनात एक डॉक्टर भी संक्रमित हो चुके थे। नवगछिया में नर्स, एएनएम और पारा मेडिकल स्टाफ भी संक्रमित हाे चुके हैं। नाथनगर निवासी क्वारेंटाइन  सेंटर में नियुक्त एक शिक्षक संक्रमित हो गए थे।

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

तीन माह बाद ऑनलाइन ही होगा रद्द एसटीईटी, बिहार बोर्ड के प्रस्ताव को मंजूरी, बेल्ट्रॉन को मिला जिम्मा

जांच कमेटी ने माना कि परीक्षा के दिन केन्द्रों पर तोड़फोड़ हुई थीं 65वीं बीपीएससी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *