Breaking News

जिले में 10 नए पॉजिटिव मिले, इसमें डॉक्टर और इंजीनियर भी शामिल; इलाज के दौरान एक मरीज की हुई मौत

  • बांग्लादेश से लौटा व्यक्ति भी संक्रमित पाया गया है
  • मेरठ में अब तक कोरोना के 744 केस मिल चुके हैं

दैनिक भास्कर

Jun 20, 2020, 10:54 AM IST

मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ में कोरोना का कहर तेजी से फैलता जा रहा है। जिले में शुक्रवार को भी कोरोना के 10 नए मरीज पॉजिटिव पाए गए। इनमें से एक डॉक्टर और बिजली विभाग में तैनात इंजीनियर भी शामिल है। वहीं शुक्रवार देर रात को सुभारती अस्पताल में भर्ती एक 60 वर्षीय व्यक्ति की कोरोना से मौत भी हुई। जिले में कोरोना संक्रमण से मरने वाले मरीजों की संख्या 57 हो गई है। 

जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ विश्वास चौधरी के अनुसार गढ़ रोड स्थित सम्राट एनक्लेव में रहने वाले 60 वर्षीय एक डॉक्टर में कोरोना की पुष्टि हुई है। यह डॉक्टर शहर के आनंद अस्पताल में प्रैक्टिस करते हैं। 46 साल की महिला हेल्थ वर्कर की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। यह महिला मुल्तानगर में रहती है। अम्हेडा गांव में रहने वाले स्टेट बैंक आफ इंडिया के ट्रेनिंग आफिसर में भी कोरोना की पुष्टि हुई है।

जिले में बंग्लादेश से यात्रा कर आया व्यक्ति की कोरोना पॉजिटिव मिला है। यह व्यक्ति ईरा गार्डन कालोनी में रहता है। ऊर्जा भवन में तैनात एक सहायक अभियंता में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। यह सहायक अभियंता मीटर विभाग में तैनात है।

अस्थायी जेल में बंद मोदीनगर के एक बंदी का भी सैंपल कोरोना पॉजिटिव मिला है। मवाना की दो महिलाओं में कोरोना की पुष्टि हुई है। मेडिकल थाने का पुलिसकर्मी भी जांच में कोरोना पॉजिटिव मिला है। रोडवेज बस का एक परिचालक भी कोरोना पॉजिटिव मिला है। इससे पहले रोडवेज का एक टीआई कोरोना पॉजिटिव मिला था। मेरठ जिले में अब तक कोरोना के 744 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं।

मरीज की दिन में दो बार देनी होगी जानकारी 
नोडल अधिकारी पी गुरूप्रसाद ने स्वास्थ्य विभाग और मेडिकल कॉलेज की टीम के साथ बैठक करते हुए कहा कि अस्पतालों में भर्ती कोरोना मरीज के तीमारदारों को दिन में दो बार उसके स्वास्थ्य की जानकारी दी जाए। इसके अलावा सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध कोरोना जांच सेंटर के बारे में अधिक से अधिक प्रचार करें ताकि लोगों को इसके बारे में जानकारी हो सके। सोशल डिस्टेंसिंग और मॉस्क लगाने के लिए भी लोगों को प्रेरित करने के लिए नोडल अधिकारी ने कहा। नोडल अधिकारी ने कहा कि किसी भी मरीज की मौत इलाज के अभाव या लापरवाही से नहीं होनी चाहिए। ऐसा होने पर जांच के बाद दोषी पाए जाने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

DA Image

नगर निगम कंट्रोल रूम के दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता नगर निगम कंट्रोल रूम के दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव नगर निगम कंट्रोल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *