Breaking News
एलोपैथी वाले बयान पर घिरे बाबा रामदेव, डॉ. हर्षवर्धन ने इसे कोरोना योद्धाओं का अपमान बताया, बयान वापस लेने को कहा

एलोपैथी वाले बयान पर घिरे बाबा रामदेव, डॉ. हर्षवर्धन ने इसे कोरोना योद्धाओं का अपमान बताया, बयान वापस लेने को कहा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने योगगुरु रामदेव से उनके एलोपैथी को लेकर दिए बयानों को वापस लेने के लिए कहा है। हर्षवर्धन ने कहा, संपूर्ण देशवासियों के लिए कोविड-19 के खिलाफ़ दिन-रात युद्धरत डॉक्टर व अन्य स्वास्थ्यकर्मी देवतुल्य हैं। बाबा रामदेव के वक्तव्य ने कोरोना योद्धाओं का निरादर कर, देशभर की भावनाओं को गहरी ठेस पहुंचाई है।

इससे पहले इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने इसी बयान को लेकर योगगुरु रामदेव को कानूनी नोटिस भेजा था। आईएमए ने वायरल वीडियो के आधार पर दावा किया था कि रामदेव कह रहे हैं कि एलोपैथी एक स्टुपिड और दिवालिया साइंस है। आईएमए ने केन्द्र सरकार से मांग करते हुए कहा था कि ‘अज्ञानता भरी’ टिप्पणी करके कथित रूप से लोगों को भ्रमित करने और एलोपैथी दवाओं को ‘मूर्खतापूर्ण विज्ञान’ बताने के लिए योग गुरु बाबा रामदेव के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। हालांकि पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट ने इस टिप्पणी से इंकार करते हुए इसे ‘गलत’ बताया था।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में बाबा रामदेव कहते दिख रहे हैं कि एलोपैथी ‘मूर्खतापूर्ण विज्ञान’ है और भारत के औषधि महानियंत्रक के कोविड-19 के इलाज के लिए मंजूर की गई रेमडेसिविर, फेवीफ्लू तथा ऐसी अन्य दवाएं बीमारी का इलाज करने में असफल रही हैं। रामदेव ने कहा कि जितने लोगों की मौत अस्पताल ना जाने और ऑक्सीजन ना मिलने से हुई उससे ज्यादा लोगों की मौत एलोपैथी दवाएं लेने के बाद हुई है।

पढ़े पूरी चिट्ठी:

Image

 

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
Harsh Vardhan asks Ramdev to take back statement
. .

.

Source link

About Jan Jagran Media Manch

A group of people who Fight Against Corruption.

Check Also

Dainik Bhaskar Hindi

पश्चिम बंगाल के विधायक सुवेंदु अधिकारी ने पीएम मोदी से मुलाकात की, कहा- 45 मिनट तक चली बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई – bhaskarhindi.com

Dainik Bhaskar Hindi – bhaskarhindi.com, नई दिल्ली। भाजपा नेता और पश्चिम बंगाल के विधायक सुवेंदु …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *