Search
Tuesday 13 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

यूपी के इन बड़े नेताओं के सामने थी कड़ी चुनौती नतीजे देखे

यूपी के इन बड़े नेताओं  के सामने थी कड़ी चुनौती नतीजे देखे
लखनऊ!उत्तर प्रदेश के चुनावी महासंग्राम का परिणाम आ चुका है। यूपी के इन चर्चित चेहरों के सामने बड़ी राजनीतिक चुनौती थी जिसका फैसला हो चुका है। जानिए किसने मारी बाजी और किसकी हुई करारी हार।

रीता बहुगुणा जोशी

कांग्रेस को अलविदा कह भाजपा का दामन थामने वाली दिग्गज नेता रीता बहुगुणा जोशी लखनऊ कैंट से चुनाव मैदान में थीं। वो इस सीट पर वर्तमान विधायक भी हैं। ऐसे में इस सीट को बचाना उनकी प्रतिष्ठा की वजह बन गया था। हालांकि इस सीट का इतिहास हमेशा बीजेपी के पक्ष में ही रहा है। साल 2012 के चुनाव में तत्काली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने इस सीट पर बीजेपी प्रत्याशी को हराकर जीत हासिल की थी। ऐसे में खुद के राजनीतिक तिलिस्म को बचाना रीता बहुगुणा जोशी के लिए सबसे अहम था और उन्होंने इसे साबित करके दिखाया है। अर्पणा यादव को शिकस्त देते हुए उन्होंने जीत हासिल की है।

अपर्णा यादव
हाईप्रोफाइल चेहरों में समाजवादी पार्टी का सबसे ज्यादा चर्चित चेहरा हैं अपर्णा यादव। 26 साल की अपर्णा मुलायम सिंह यादव की बहू हैं और पार्टी की प्रतिष्ठित सीट लखनऊ कैंट से चुनाव मैदान में थीं। अपर्णा यादव बीजेपी की दिग्गज नेता रीता बहुगुणा जोशी के खिलाफ चुनाव लड़ रही थीं और इसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा है।

रानी पक्षालिका सिंह 
रानी पक्षालिका सिंह अपने पति अरिदमन सिंह की जगह बीजेपी के टिकट पर बाह सीट से चुनाव लड़ रही थीं और उन्होंने इस महासंग्राम में जीत हासिल की है।

shivpal singh yadaw

shivpal singh yadaw

शिवपाल यादव

यूपी विधानसभा में सपा कुनबे की रार के बाद शिवपाल यादव के पास कुछ बचा था तो खुद की व्यक्तिगत राजनीतिक करियर की साख को बचाना। शिवपाल सिंह जसवंतनगर विधानसभा सीट से सपा के टिकट पर पांचवी बार चुनाव लड़ रहे थे और उन्होंने अपना दबदबा बरकरार रखते हुए एकबार फिर जीत हासिल की है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *