Search
Saturday 17 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

अमेठी जिले के ग्राम महोना में एक ही परिवार के 11 लोंगों की संदिग्ध हत्या ?

अमेठी जिले के ग्राम महोना में एक ही परिवार के 11 लोंगों की संदिग्ध हत्या  ?
रिपोर्ट-रहीमउल्लाह/ मो०शाहनवाज़
अमेठी । थाना शुक्लबज़ार के महोना क्षेत्र मे एक ही परिवार के 11 सदस्यों की अचानक हुई संदिग्ध मौत ने पूरे जिले को चकाचौंध कर दिया दिल दहला देने  देना वाली यह घटना बीती रात अमेठी जिले के ग्राम महोना थाना बाजार शुकुल में घटित हुई जहाँ करीब  50 वर्षीय जमालुदीन समेत 11 सदस्यों के पूरे परिवार को धारदार हथियार से मौत के घाट उतार दिया गया घटना की जानकारी मिलते ही ग्राम महोना में  जिले के आला अधिकारी आनन् फानन पहुंचें पुलिस ने  शवों को अपने कब्जे में लिया हैं तथा घटना की जाँच करने में जुट गयी है !
    घटना स्थल का मंज़र बेहद ही दर्दनाक था पूरे घर में लाशें तितर बितर पड़ी थी चारो ओर खून बहा था और घर के मुखिया जमालुद्दीन की लाश फांसी के फंदे में लटकी हुई थी  जमालुद्दीन की बीबी व लड़की जीवित थी जिन्हें  जगदीशपुर सरकारी अस्पतालले जाया गया जहाँ दोनों   जिंदगी और मौत के बीच  जूझ रही है गौर तलब यह है की जमालुद्दीन जो की घर का मुखिया था जिसे फांसी पैर लटका पाया गया उसके दोनों पैरों में चप्पल थी जो पैरों में पूरी तरह फिट नज़र आयी इसे देख लोग हैरत थे ज्यादातर लोग यही कयास लगा रहे हैं की आखिर फांसी पर लटके व्यक्ति ने पैर भी नहीं हिलाए जो की चप्पल भी टसमस ना हुई  एक ओर जहाँ इस दर्दनाक घटना को हत्या से जोड़ा जा रहा है वही यह भी कहा जा रहा है की जमालुद्दीन ने खुद घर वालों को जहरीली दवा पिलाने के बाद  सभी का गला रेत  खुद फांसी लगा ली अब सवाल यह भी उठ रहें हैं की क्या कोई घर का मुखिया भरे पूरे परिवार को इतनी निर्दयता से क़त्ल कर सकता है ? वो भी एक दो नहीं बल्कि 11 की एक साथ बैरहाल अटकलों का बाज़ार गर्म है  फिल हाल मौत और जिदगी से जूझ रही पत्नी व बेटी यदि बचती हैं तो संभव है रहस्य से पर्दा उठ सके फिलहाल पुलिस जांच में जुटी हुई समाचार लिखे जाने तक शवों को पोस्ट मार्टम हेतु भेजने की तैयारी में पुलिस जुटी थी फिलहाल आई जी मंडल व जिले के आला अधिकारी भी घटना की  जांच पड़ताल में पूरी तरह से लगे हुए है  एक ही परिवार के 11 लोंगों के संदिग्ध क़त्ल ने पूरे प्रदेश को दहला दिया है क्षेत्र में दहशत का माहौल है  मृतकों मे  जमालुद्दीन 48 वर्ष,  हुस्ना पत्नी शमशुद्दीन 48 वर्ष,  रुबीना 17 वर्षी, तबस्सुम 9 वर्षीय, तहसीन 9 वर्षीय, आफरीन 18 वर्षीय, मरीयम8 वर्षीय,  महक 7 वर्षीय,  निगार पुत्री रईस5 वर्षीय,  उज़्मा 2 वर्षीय जब की मृतक मुखिया जलालुद्दीन की  बीवी व एक पुत्री ज़िन्दा हालात में हैं जिनकी हालत गंभीर बनी हुई तथा उनका इलाज़ चल रहा है ! घटना के संदर्भ में जानकारी हेतु पुलिस अधीक्षक अमेठी से जनजागरण मीडिया मुख्यालय लखनऊ से से दूरभास पर संपर्क स्थापित कर जानकारी चाही गयी किन्तु  व्यस्तता की जानकारी दी गयी जिसके चलते ताज़ा स्थित की जानकारी नहीं हो सकी कुलमिलाकर जिले की आला अधिकारी मामले की गंभीरता से जाँच में जुटे हुए हैं वहीं कयासों का दौर भी जरी है कुछ लोग जहाँ  इसे घर के मुखिया द्वारा ही उठाया गया कदम बता रहें है वही कुछ लोग इसे हत्या का मामला कह रहें है अब इन 11 लोगों की हत्या की गयी है या घर के मुखिया ने ही इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया है यह पुलिस की जाँच में ही खुलासा हो सकेगा !


A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *