Search
Tuesday 18 September 2018
  • :
  • :
Latest Update

विद्युत विभाग के कर्मचारी  चौथ वसूली में मस्त, जनता त्रस्त

विद्युत विभाग के कर्मचारी  चौथ वसूली में मस्त, जनता त्रस्त

 अमेठी ब्यूरो ! मुख्य मंत्री के आदेशों निर्देशों को धता बताते हुए  विद्युत विभाग के आला अधिकारी व कर्मचारियों की मनमानी जारी है चौथ वसूली  ख़त्म होने का नाम नही ले रही है  और न ही कोई उनका कुछ बिगाड सकता है यदि कोई ग्रामीण कुछ जागरुक है वह जनता की मदद करना चाहता है तो गोल मोल बातें कर दौड़ाते रहते हैं जिससे  विद्युत विभाग से त्रस्त होकर ग्रामीण चन्दा करके  सुविधा शुल्क  कर्मचारियों को देने के लिये मजबूर हो जाते हैं रूपये मिलने के बाद ही कर्मचारियों के कान में जूं रेंगती है yahee कारण है की यहाँ  ग्रामीण स्तर पर विजली की समस्या बराबर बनी हुई है!

सूत्रो की माने तो अँधेरे से आजिज़ ग्रामीणों के आग्रह पर  ट्रांसफार्मर के नाम पर हजारों की वसूली  करने के बाद ही  ट्रान्सफार्मर लगाया जाता है ट्रांसफार्मर  जल्द  क्यों  जल जाते  है   जे ई और , एस डी ओ ने पत्रकारो से वार्तालाप में बताया की मैं मज़बूर हूँ ट्रांसफार्मर में देरी की वजह बकाया बिल है ट्रान्सफार्मर जलने की वजह ओवर लोड या  वर्कशाप से ही ट्रान्सफार्मर की सही दुरूस्तीकरण न होना भी है !

पत्रकारों के सवाल पर की बिजली चोरो की केबिल क्यों नही उतारी जाती एस डी ओ ने कहा विद्युत् चोरो को पकड़ना गाव वालों का काम है मेरा नही जनवरी 2016 से आजतक कितने ट्रांसफार्मर जले हैं तो इसका कोई जवाब नही दिया गया जर्जर लाइनों  के बारे में जवाब रहा  जर्जर लाइनों का मेंन्टिनेंस का काम ठेकेदारों के अंडर में है एक जे ई के अंडर में दो फिडर है एक फीडर पर तीन लेबर हैं स्टॉप की कमी है ग्रामीण  स्तर पर इस सच्चाई को झूठा नही माना जा सकता एक फीडर का कार्य क्षेत्र बहुत बडा होता है यहां तक कि उपभोक्ता बिल जमा कर रहा है एस डी ओ जगदीशपुर के संरक्षण में कमासुत  कंप्यूटर आपरेटर गलत (बढ़ चढ़ कर बनायी गयी बिल ) बकाया बिल सही नही कर रहा है जनता बिजली की बिल जमा कर रही है मगर पिछला बकाया फ़िर जुड़ कर आ रहा है मजबूरन जनता बिल कैसे कितनी जमा करे  उपभोक्ता बिल सही करवाने के लिये चक्कर लगाते लगाते परेशान है जनजागरण मीडिया मंच की टीम ने विधुत अभियन्ता कार्यालय में जाकर वार्तालाप किया सुनील नाम के कर्मचारी  ने बताया साहब से पूछने के बाद रिकार्ड दे पाउंगा विद्युत् अभियन्ता को फोन करने पर फोन नहीं उठाते तीसरे दिन फोन उठाया जवाब रहा वर्कशाप से रिकार्ड मिलेगा अमेठी में बिजली की समस्या बनी हुई है लम्बे अरसे से कार्यरत एस डी ओ  जगदीशपुर को जनता को त्रस्त करके पैसा वसूली में महारत हासिल है सूत्रो की माने तो विधुत विभाग अमेठी जिले के सभी एस डी ओ चौथ वसूली में महारथी हैं यदि कोई पावर हाउस कर्मचारियों से बहस कर विधुत अभियन्ता अमेठी से शिकायत करता है तो उसे भ्रष्टाचार की और  बडी ताकत का सामना करना पडता है मुख्य मंत्री जी हो सके तो ऐसे कर्मचारियों की जांच करवाकर शख्त से शख्त कार्यवाही की जाय   अमेठी जिले में विधुत विभाग में ठेकेदारी करने वाले ठेकेदारों की बल्ले बल्ले जो कार्य करना होता है यहां तक ट्रान्सफार्मर पर जली हुई केबल भी जनता से पैसा लेकर या केबल जनता से स्वंय मगवाई जाती है अमेठी  जिले में कुछ जगहों पर ट्रान्सफार्मर व खम्भों पर खींचे हुए तार व जगदीशपुर एन एच 56 के किनारे बिना बैरीकेटिग खुला हुआ जमीन पर रखा ट्रांसफार्मर सीधे मौत को दावत दे रहा है



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *