Search
Thursday 20 September 2018
  • :
  • :
Latest Update

लखीमपुर में टाइगर के खूनी आतंक से घरों में दुबके ग्रामीण

लखीमपुर में टाइगर के खूनी आतंक  से घरों में दुबके ग्रामीण

लखीमपुर! . टाइगर की दहशत से अब लोग सही शाम घरों में दुबकने को मजबूर है पिछले दिनों अलग-अलग घटनाओं में तरसेम सिंह व रहीस नाम के दो व्यक्तियों की जान लेने वाला टाइगर अब काफी ढीठ हो गया है। तरसेम की जान लेने के बाद इस टाइगर ने सुनहरा भूड मे पांच बार गांव मे घुस कर पालतू मवेशियों पर हमले का प्रयास किया। एक ग्रामीण का बकरा जो घर मे बंधा था टाइगर ने मार कर खा लिया।
अभी दो दिन पहले मैलानी से आ रहे तीन व्यक्तियों पर दिन दहाडे सुनहरा भूड के पास टाइगर ने झपट्टा मारा गांव के सैकड़ों ग्रामीणों के शोरगुल मचाने पर बहुत मुश्किल से हटा। उधर कल दोपहर लगभग दो बजे बांके गंज से तीन किलोमीटर आगे ग्राम पूरनपुर में गेहूं के खेत के पास दिन दहाड़े टाइगर को बैठे देख कर सैकडों ग्रामीण वहां पहुंच कर शोर मचाने लगे और उसे भगाने का प्रयास काफी देर तक करते रहे।
बावजूद इसके ढीठ टाइगर नहीं हटा बल्कि भीड़ देख कर गुर्राता रहा और दो बार झपटने की भी कोशिश की। टाइगर ने एक बार फिर कुकरा चौकी के मंदरायां मे होली के अवसर पर डेक बजाकर नाच रहे 15 वर्षीय लड़के की हत्या के बाद गश्त कर रहे पुलिस चौकी बांके गंज के जवानो को टाइगर के दहसत के चलते रास्ता बदलकर जाना पड़ा।सूचना पा कर वन कर्मी मौके पर पहुंचे लेकिन शाम को टाइगर वहां से हट गया। अब सुनहरा भूड, हरदुआ ,जटपुरा ,पूरनपुर में ग्रामीणों में टाइगर के खौफ के चलते महिलाएं बच्चे खेतों मे जाना तो दूर शौच जाने से भी डरने लगे हैं। ग्रामीणों का मानना है कि वन विभाग द्वारा अगर इसे जल्द पकड़ा न गया तो इस तरह आये दिन जनहानि होती रहेगी और कोइ बड़ी घटना भी घटित हो जायेगी !



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *