Search
Sunday 23 September 2018
  • :
  • :
Latest Update

मामूली विवाद के चलते पड़ोसी ने मासूम बच्चे को जहर पिलाकर मारडाला

मामूली विवाद के चलते पड़ोसी ने मासूम बच्चे को जहर पिलाकर मारडाला

इटावा.औरैया जिले से एक खौफनाक वारदात सामने आयी है। बच्चों के बीच हुए आपसी मामूली विवाद के चलते पड़ोसी ने मासूम बच्चे को जहर पिलाकर मौत के घाट उतार दिया। सैफई के पीजीआई में इलाज के दौरान चार दिन बाद मासूम ने दम तोड दिया।
औरैया जनपद के थाना विधूना इलाके के कछपुरा मोहल्ले के रहने वाले संतोष और अनिल आस पास रहते है। घर आस पास होने की वजह से दोनों के बच्चो में दोस्ती हो गयी। तभी 12 मार्च को दोनों दोस्त के बीच मामूली सी बात को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि दोस्त दीपक के पिता अनिल ने दोस्त के साथ मारपीट करते हुए जहर दे दिया। हालत बिगड़ता देख मासूम के परिजनों ने औरैया जिले के जिला अस्पताल ले गए लेकिन हालत गंभीर देखते हुए मासूम बच्चे अवधेश को इटावा के सैफई पीजीआई में रिफर कर दिया। अवधेश की हालत लगातार बनी रही जिसके चलते चार दिन बाद मासूम अवधेश ने आखिरकार सैफई में दम तोड़ दिया। मृतक मासूम की मां की पहले ही मौत हो चुकी है। इस पूरी घटना के बाद से आरोपी पड़ोसी घर से फरार है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुट गयी है। इस खौफनाक वारदात के बाद से इलाके में सनसनी मच गयी है।
अवधेश के परिजनों का कहना है कि वे घर से बाहर गया हुए थे। तभी सूचना मिली कि पड़ोसी से किसी बात को लेकर विवाद हो गया है। जब घर आकर देखा तो अवधेश घर पर नहीं था और वह हास्पिटल में मिला। तभी पुलिस को सूचना दी लेकिन पुलिस देर से अस्पताल पहुंची। बच्चे ने बयान दिया कि इन लोगों ने मुझे मारा और मुझे कुछ पिला दिया डाक्टरों ने बताया कि इसको जहर पिलाया गया है। इस मामले की सूचना पुलिस को देने थाने गये तो पुलिस ने भगा दिया। कहा कि, जब आपका बच्चा ठीक हो जाए तब आना।
वहीं इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि 12 मार्च को संतोष और अनिल के बच्चों का आपस में विवाद हो गया था। इसी की तहरीर मृतक के पिता द्वारा तहरीर दी गयी थी। उसी के आधार पर थाने में मुकदमा दर्ज कर विवेचना की जा रही है, उसी के साक्ष्य के आधार पर कार्यवाही की जायगी।



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *