Search
Thursday 15 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

फिर बढ़े दाम,लुट रही जनता , कर से काम तमाम

फिर बढ़े दाम,लुट रही जनता , कर से काम तमाम

नई दिल्ली ।पेट्रोलियम कंपनियों ने भले ही कच्चे तेल की कीमत का हवाला देते हुए पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा दिए हों, लेकिन सच्चाई ये है कि आज के समय में पेट्रोल की असली लागत 20.52 रुपए प्रति लीटर और डीजल की असली लागत 19.98 रुपए प्रति लीटर है। ये आंकड़े खुद पेट्रोलियम मंत्रालय के हैं।
केंद्र सरकार पेट्रोल पर प्रति लीटर 21.48 रुपए उत्पाद शुल्क और 36 पैसे सीमा शुल्क वसूलती है, जबकि डीजल के मामले में क्रमश: प्रति लीटर 17.33 रुपए और 36 पैसे वसूले जाते हैं। इस प्रकार केंद्र सरकार इन दोनों उत्पादों की लागत से ज्यादा इन पर कर वसूल लेती है। वितरण के लिए जाने के बाद राज्य सरकारें भी इस पर भारी भरकम कर लाद देती है।
deejal
जैसे कि मध्य प्रदेश में पेट्रोल पर 38 .96 फीसदी, जबकि डीजल पर 32.36 फीसदी वैट वसूला जाता है। जिस दाम पर वैट लगाया जाता है, उसमें पेट्रोल-डीजल की असली लागत के साथ उस पर लगा उत्पाद व सीमा शुल्क भी शामिल होता है। इस प्रकार राज्य सरकार भी दोनों पेट्रो उत्पादों पर लगभग लागत के बराबर कर वसूल लेती है। इस कराधान के चलते पेट्रोल और डीजल अपनी लागत से तीन गुनी कीमत पर बिक रहे हैं।

Reviews

  • 8
  • 7
  • 5
  • 7
  • 5.4

    Score




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *