Search
Wednesday 21 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

जर्जर सड़कों की सूरत बदलेगी,118 करोड़ से बनेगी 62 किमी सड़कें

जर्जर सड़कों की सूरत बदलेगी,118 करोड़ से बनेगी 62 किमी सड़कें

बरेली. जिले की बड़ी और जर्जर सड़कों की सूरत बदलने की कवायद शुरू हो गई है। सड़कों के निर्माण के लिए भारत सरकार ने मंजूरी दे दी है। इसे सैकड़ों गांवों के लोगों के आवागमन में सुविधा होगी। केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार के प्रयासों से भारत सरकार ने जिले में 62 किमी लंबी सड़कों के निर्माण के लिए हरी झंड़ी दे दी है।
पीडब्ल्यूडी ने इन सड़कों के लिए 118 करोड़ रुपये का प्रस्ताव पास किया था। बजट मिलते ही दोनों सड़कों पर काम शुरू कर दिया जाएगा। केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार के सहायक निजी सचिव रमेश जैन ने बताया कि भिटौरा से शाही-शेरगढ़ होते हुए बहेड़ी जाने वाली सड़क काफी खस्ता हाल थी। ये सड़क दिल्ली रोड से बहेड़ी को जोड़ती है। इसमें तीन ब्लाक मुख्यालय के साथ सैकड़ों गांवों के लोगों के आने-जाने का रास्ता है। जिस पर 41.80 किमी लंबी सड़क के लिए पीडब्ल्यूडी ने 77 करोड़ रुपये का बजट प्रस्ताव बनाकर भेजा था।
वहीं दूसरी सड़क बहेड़ी से शीशगढ़ रोड भी काफी खस्ताहाल थी। 20 किमी लंबी सड़क का बजट 41 करोड़ रुपये तैयार किया गया था। दोनों सड़कों के निर्माण के लिए केंद्रीय वस्त्र मंत्री संतोष गंगवार ने केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग और पोत परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को चिट्ठी लिखी थी। जिस पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सेंट्रल रोड फंड स्कीम में दोनों सड़कों के निर्माण को मंजूरी दे दी है। दोनों सड़कें इसी वित्तीय वर्ष 2015-16 में बनाई जायेंगी। इसके लिए जल्द ही फंड रिलीज किया जाएगा।
10 किमी सड़क बनवाने को केंद्रीय मंत्री ने सीएम को भेजी चिट्ठीएनएचएआई ने बाइपास का निर्माण कर दिया है। इसके बाद नेशनल हाइवे की सभी सड़कें बना दी गई हैं। हाइवे से अंदर शहर की ओर करीब दस किमी फोर लेन का निर्माण होना था। वो निर्माण नहीं हो सका है। इस वजह से सड़कें टूटी हैं। शहर के अंदर के रोड को एनएचएआई निर्माण नहीं करवा सकती है। केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को चिट्ठी भेजकर बाइपास से अंदर शहर की ओर सड़क का निर्माण कराये जाने को कहा है .



A group of people who Fight Against Corruption.


One thought on “जर्जर सड़कों की सूरत बदलेगी,118 करोड़ से बनेगी 62 किमी सड़कें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *