Search
Tuesday 25 September 2018
  • :
  • :
Latest Update

कानपुर में संजय जोशी के पोस्टर, भाजपाइयों में हलचल

कानपुर में संजय जोशी के पोस्टर, भाजपाइयों में हलचल
कानपुर. हाल ही में भाजपा सांसद मुरली मनोहर जोशी के लापता होने के पोस्टर पूरे शहर में चर्चा का विषय बने हुए थे। अब एक और पोस्टर ने भाजपा खेमे में हलचल मचा दी है। कानपुर के नवीन मार्केट में मौजूद भारतीय जनता पार्टी कार्यालय के नीचे लगे पोस्टरों में लिखा है कि ‘भाजपा की मजबूरी है, मोदी-जोशी एकता जरूरी है।’ वहीं, दूसरे में ‘सरकार संभाले नरेंद्र मोदी, संगठन संभाले संजय जोशी’ लिखा हुआ है। इससे पहले लखनऊ में भी संजय जोशी के पोस्टर लग चुके हैं। वहीं, कुछ भाजपाइयों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि संगठन से निकाले जाने के बाद संजय कई बार शहर आ चुके हैं। यहां उनके कई समर्थक हैं। ऐसे में कुछ पदाधिकारी चाहते हैं कि संजय जोशी ही संगठन का भार संभाले।
भाजपा कार्यालय के नीचे गैलरी में लगे इस पोस्टर को देखकर वहां मौजूद एक कार्यकर्ता ने इसकी सूचना नगर के अध्यक्ष और महामंत्री को दी। इसके बाद पदाधिकारियों ने तुरंत पोस्‍टर फाड़ कर हटा दिया। हालांकि, तब तक इन पोस्टर्स को मीडिया के फोटोग्राफर ने कैमरे में कैद कर लिया था। वहीं, कुछ भाजपाइयों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि दोनों ही पोस्टर संजय जोशी के लिए हैं।

कैबिनेट में नहीं किया शामिल
जानकारी के मुताबिक, डॉ. जोशी और पीएम नरेंद्र मोदी के बीच बढ़ती दूरियों के बारे में सभी कार्यकर्ता और पदाधिकारी जानते हैं। कुछ कार्यकर्ताओं का मानना है कि मोदी ने चुनाव के बाद डॉ. जोशी को हाशिए पर रख दिया और उन्हें कैबिनेट में शामिल नहीं किया। बीते लोकसभा चुनाव में डॉ. जोशी पहले तो मोदी के लिए वाराणसी की सीट छोड़ने के लिए तैयार नहीं थे।
पोस्‍टर से भाजपा के पदाधिकारियों में हलचल
इसके अलावा चुनाव के समय जोशी ने ‘अबकी बार भाजपा की सरकार’ का स्लोगन तक लिखवा दिया था, जबकि पूरे देश में ‘अबकी बार मोदी सरकार’ की धूम थी। फिलहाल, पहले लापता जोशी और अब मोदी के साथ एकता को लेकर चर्चित पोस्टर ने भाजपा के पदाधिकारियों के लिए हलचल पैदा कर दी है।


A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *