Search
Sunday 18 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

किसमें कितना है दम..?

किसमें कितना है दम..?

दिल्ली विधानसभा के लिए चुनावी शंख फूंका जा चुका है और सभी दल अपने-अपने योद्धाओं की ताकत की थाह लेने में जुटे हैं। इसी बीच, किरण बेदी के रूप में भाजपा के हाथ एक ‘बड़ा हथियार’ लग गया है। सोशल मीडिया पर भी K बनाम K की जंग शुरू हो गई है।अन्ना आंदोलन में अरविन्द केजरीवाल की पूर्व सहयोगी रहीं किरण ने ‘भगवा ध्वज’ थामकर इस मुकाबले को काफी रोचक बना दिया। हालांकि हकीकत चुनाव परिणाम के बाद ही पता चलेगी, लेकिन सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों पर लोगों ने दोनों के बीच तुलना भी शुरू कर दी है।

यदि हम इन दोनों शीर्ष नेताओं के बीच समानता देखें तो दोनों ही के नाम में हिन्दी का ‘क’ और अंग्रेजी का ‘K’ अक्षर आता है। हालांकि किरण के नाम में के आता है, जबकि अरविन्द के सरनेम केजरीवाल में के आता है। दोनों ही आईआईटी से पढ़े हुए हैं। किरण बेदी जहां आईआईटी दिल्ली से पढ़ी हुई हैं, जबकि अरविन्द केजरीवाल आईआईटी खड़गपुर से। एक का चयन भारतीय पुलिस सेवा के लिए हुआ था, तो दूसरे यानी केजरीवाल का चयन भारतीय राजस्व सेवा के लिए।



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *