Search
Saturday 22 September 2018
  • :
  • :
Latest Update

शिवपाल यादव के कदम से भाई-भतीजावाद का मुद्दा खत्‍म: अखिलेश यादव

शिवपाल यादव के कदम से भाई-भतीजावाद का मुद्दा खत्‍म: अखिलेश यादव

लखनऊ  : चाचा शिवपाल द्वारा  समाजवादी सेक्युलर मोर्चा  बना लेने और उनके द्वारा  लोकसभा चुनाव में 80 सीटों पर चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद उनके भतीजे और समाजवादी  पार्टी  के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव  ने उनके इस कदम को अपनी पार्टी के लिए लाभकारी बताया है। अखिलेश यादव ने कहा क‍ि इससे समाजवादी पार्टी को भाई-भतीजावाद के आरोपों से भी मुक्ति मिल जाएगी। अखिलेश यादव से जब शिवपाल यादव के समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्‍होंने कहा, ‘चलो अच्‍छा है, इससे परिवारवाद वाला मुद्दा भी खत्‍म जो गया।’ उन्‍होंने कहा कि इस मोर्चे के गठन का ऐलान इस बात को दर्शाता है कि समाजवादी पार्टी में लोकतंत्र की जड़ें मजबूत हैं और हरेक व्‍यक्ति को अपनी बात कहने का पूरा हक है।
‘डिंपल को चुनाव लड़वा देता हूं’
राजधानी लखनऊ में एक आयोजित कार्यक्रम में अखिलेश ने इस बात की संभावना से इनकार नहीं किया कि उनकी पत्‍नी और कन्‍नौज से सांसद डिंपल यादव आगामी लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। अखिलेश से सवाल पूछा गया था कि अपने परिवार पर भाई-भतीजावाद के आरोपों का जवाब देने के लिए उन्‍होंने पत्‍नी डिंपल को चुनाव नहीं लड़ाने का ऐलान किया है जबकि परिवार के किसी पुरुष सदस्‍य के खिलाफ ऐसी कोई कार्रवाई नहीं की गई।
इस सवाल पर अखिलेश ने कहा कि यह सुझाव अच्‍छा है। उन्‍होंने कहा, ‘डिंपल को चुनाव लड़वा देता हूं।’ अखिलेश ने राज्‍य सरकार पर निशाना साधते हुए धन्‍यवाद दिया और कहा कि बीजेपी ने उन्‍हें यह अहसास करा दिया कि वह ‘पिछड़े’ हैं। उन्‍होंने सवाल किया, ‘यदि ऐसा नहीं था तो क्‍यों जब उन्‍होंने सीएम आवास खाली किया तो उसे गंगा जल छिड़ककर शुद्ध किया गया और उसके बाद वर्तमान मुख्‍यमंत्री ने गृह प्रवेश किया।’
सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगा शिवपाल का मोर्चा
बता दें कि समाजवादी पार्टी में उपेक्षा से नाराज होकर शिवपाल यादव ने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाया है। साथ ही उन्होंने ऐलान किया है कि उनका मोर्चा 2019 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगा। इतना ही नहीं 2019 के चुनाव के बाद मोर्चे के मजबूत होने का दावा करते हुए 2022 के विधानसभा चुनाव में भी उतरने की बात कही है।



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *