Search
Sunday 23 September 2018
  • :
  • :
Latest Update

सीएम योगी ने दिए आंधी-तूफ़ान से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के निर्देश

सीएम योगी ने दिए आंधी-तूफ़ान से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के निर्देश

लखनऊ. सीएम योगी ने प्रदेश के विभिन्न जनपदों में शुक्रवार को आए आंधी-तूफान में कुछ लोगों की मौत पर शोक व्यक्त किया है। सीएम ने दिए आंधी-तूफ़ान से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने कराने के निर्देश, शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। सीएम ने सभी जनपदों के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि आपदा से प्रभावित लोगों की हानि का आंकलन करते हुए उनको राहत एवं अन्य जरूरी मदद अविलम्ब उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। बता दें कि शुक्रवार शाम आंधी ने प्रदेशभर में तबाही मचा दी थी। विभिन्न जिलों में पेड़ गिरे, सैकड़ों बिजली के खंभे उखड़े, टिनशेड और होर्डिग्स उड़ गए। कच्चे मकान और दीवारें ढह गईं। इनकी चपेट में आने से प्रदेश में 27 लोगों की मौत हो गई जबकि सैकड़ों लोग घायल हो गए। रेल से लेकर सड़क यातायात बाधित रहा, जिससे लोग परेशान रहे। पेड़ों के बिजली के तारों में गिरने से अधिकांश स्थानों पर विद्युत आपूर्ति ध्वस्त रही।

रेल से लेकर सड़क यातायात बाधित, बिजली आपूर्ति भी ठप
आंधी के बाद तेज बारिश से फसलों को भी नुकसान पहुंचा है, जबकि दर्जनों पेड़ और होर्डिंग्स धराशाई हो गए. मुरादाबाद में 7, संभल में 3, मेरठ और मुजफ्फरनगर में 2-2 और अमरोहा में एक की मौत हुई है. मौतों का आंकड़ा बढ़ सकता है।
इस बीच राहत आयुक्त संजय कुमार ने सभी प्रभावित जिलों में नुकसान का आंकलन करने और राहत पहुंचाने के निर्देश दिए हैं।
एटा जिले में भी तेज आंधी और तूफान से 5 लोग घायल हो गए. थाना कोतवाली देहात के गांव छितौनी में मकान की दीवार गिरने से पति, पत्नी घायल हो गए.
थाना मलावन के चांदपुर में आश्रम की टीन गिरने से 2 लोग घायल हो गए. थाना पिलुआ के गांव सुन्ना में पेड़ गिरने से एक व्यक्ति घायल हुआ।
सभी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, वहीं मेरठ में भी आंधी का कहर देखने को मिला।
देर रात आई आंधी से कई इलाकों की बिजली गुल हो गई, शहर के अधिकतर इलाके अंधेरे में डूब गए।
आंधी तूफ़ान से लाखों के नुकसान की बात भी सामने आ रही है, मुजफ्फरनगर में भी आंधी से फसलों को काफ्दी नुकसान पहुंचा है.
बताया जा रहा है कि आम की फसल बर्बाद हो गई है,दूसरी तरफ बदायूं में तेज हवा और आंधी के चलते डायल 100 की गाड़ी पर एक पेड़ गिर गया।
इस हादसे में कार में सवार कई पुलिस कर्मी बाल-बाल बच गए. बुलंदशहर में धूल भरी आंधी की वजह से तीन मंजिला इमारत में लगे शीशे भरभराकर गिर गए।
कांच लगने से कई लोग घायल हो गए. जिसमें से एक की हालत नाजुक बताई जा रही है. सभी घायलों को हायर मेडिकल सेंटर रेफर किया गया है।
मौसम विभाग का कहना है कि आसमानी आफत अभी रुकने वाली नहीं है. पश्चिमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ घंटों में आंधी-पानी की प्रबल संभावना है, जिसके बाद सभी जिलों को अलर्ट पर कर दिया गया है।



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *