Search
Tuesday 20 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

इबादत और बरकतों का महीना है माहे रमजान

इबादत और बरकतों का महीना है माहे रमजान

लखनऊ –  चांद दिखने के साथ ही  रमजान की शुरुआत हो गई। मौलानाओं द्वारा जारी सूचना के बाद शिया व सुन्नी  सभी लोगों ने एक दूसरे को चांद की बधाई देना शुरू कर दिया ,आम मुसलमान  माहे रमजान को बरकतों का महीना ,इबादतों का महीना मानता है इस मुुकद्दस रमजान के लिए यहाँ  मस्जिदों को दुल्हन की तरह सजा दिया गया है। बाजार भी पूरी तरह से गुलजार हैं। तरावीह (कुरान का पाठ) शुरू हो गर्ईं.  १७ मई से शुरू पहले  रमजान के दिन से ही मुस्लिम इलाकों खासकर पुराने लखनऊ में रौनक बढ़ गयी है

मौलाना जावेद जैदी ने माहे रमजान की खुसूसियत को बताते हुए कहा  कि साल के 12 महीनों में रमजान सबसे खास महीना है।  मौलाना जैदी ने कहा कि हर मुसलमान इस मुबारक महीने में  ज्यादा से ज्यादा इबादत- अल्लाह का जिक्र करें, जकात- दान दें। लोगों और आपने नौकरों से नर्म दिल से पेश आएं। खासकर गरीबों और अपने नौकरों पर रहम करें। उन्होंने कहा रमजान का महीना पूरे साल की ट्रेनिंग का महीना है हर एक रोजदार को रोजे का अज्र खुद अल्लाह देगा.



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *