Search
Wednesday 21 November 2018
  • :
  • :
Latest Update

पुलिस संरक्षण के चलते दबंग नहीं बनाने दे रहे दीवार, पीड़ित ने मुख्यमंत्री से लगाई न्याय की गुहार

पुलिस संरक्षण के चलते दबंग नहीं बनाने दे रहे दीवार, पीड़ित ने मुख्यमंत्री से लगाई न्याय की गुहार

अमेठी ब्यूरो ! जगदीश पुर थाना क्षेत्र स्थित ग्राम हसवा सुरवन निवासी साहब लाल बीते दो महीनो से जिले के आला अधिकारीयों से अपनी पीड़ा को प्रार्थनापत्र के जरिये  पहुंचा न्याय की गुहार लगा रहा है किन्तु  कहावत ढाक के तीन पात वाली ही चरित्रार्थ हो रही है  स्थानीय पुलिस का संरक्षण लिए गांव के दबंग उसे अपने मकान की दीवाल नहीं बनाने दे रहे है थक हार कर गुरुवार को उसने सूबे की सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री  व  पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश से न्याय की गुहार लगाई पत्रकारों से उसने बताया की दबंगों द्वारा  उसे जान से मार देने की धमकी भी दी a रही है !

सूबे के मुख्यमंत्री सहित पुलिस महानिदेशक को सौंपे गए पत्र में पीड़ित साहब लाल ने कहा है की वह अपने पैतृक मकान की टूटी दीवाल का निर्माण करा रहा था तभी वहां उसकी जमीन पर कब्जे की फिराक में लगे भवानी प्रसाद ने जगदीशपुर पुलिस को १०० नंबर डायल करते हुए बुला लिया  जगदीश पुर पुलिस से वह बताता रहा की यह उसका पैतृक मकान है किन्तु पुलिस उसे पकडकर थाने ले आयी यहाँ उससे जगदीशपुर थाना प्रभारी व  एस आई द्वारा मोटी रकम की मांग की गयी जिसे दे पाने में उसने अस्मर्थता जताई इसके बाद उसे पुलिस की गालियाँ मिली और देर रात तक थाने में ही बैठाये रखा गया काफी रोंने गिडगिडाने के बाद देर रात उसे थाने से यह हिदायत देकर छोड़ा गया की कोई निर्माण ना कराना ! पीड़ित साहब लाल ने शासन व प्रशासनिकअधिकारियों को दिए गए प्रार्थना पत्र में यह भी आरोप लगाया है की विरोधियों को जगदीशपुर पुलिस का संरक्षण प्राप्त है जिसके चलते जगदीशपुर पुलिस उप जिलाधिकारी द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन नहीं कर रही है उसने बताया की लेखपाल व राजस्वकर्मियों द्वारा दी गयी आख्या व उपजिलाधिकारी के निर्देश के वावजूद पुलिस ने निर्माण रुकवा रखा है जिसके चलते  विरोधी मूंछों पर ताव दे उसे तरह तरह की धमकी भी दे रहें हैं !

इस सन्दर्भ में पीड़ित आरोपी साहब लाल  के द्वारा लगाये जा रहे  आरोपों व प्रकरण की जानकारी जब प्रभारी जगदीशपुर से दूरभास पर लेना चाही गयी तो वो पहले बोले पुलिस के खिलाफ कार्यवाही करे फिर जब उनसे पूछा गया कि पीड़ित साहब लाल के आरोप में सच्चाई क्या है और  आप का कहना क्या है तो बोले पुलिस शांतिभंग नहीं होने देना चाहेगी .यही नहीं मीडिया से बातचीत के दौरान भी वो उग्र होते लगे तथा वार्ता ना कर फ़ोन कट  कर दिया फिलहाल पीड़ित साहब लाल राजधानी के चक्कर लगा रहा है उसका मानना है की जिले से तो उसे न्याय नहीं मिला किन्तु यहाँ उसकी फ़रियाद सुनी जायेगी और उसे न्याय जरूर मिलेगा .



A group of people who Fight Against Corruption.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *